Begin typing your search...

मुझे जिन्दा जलाने की धमकी देने व मेरा हश्र इंदिरा गाँधी की तरह करने वालों को एसपी जेल में डालें – वीरेश शांडिल्य

मुझे जिन्दा जलाने की धमकी देने व मेरा हश्र इंदिरा गाँधी की तरह करने वालों को एसपी जेल में डालें – वीरेश शांडिल्य
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
अम्बाला: मुझे जिन्दा फूंकने व पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की तरह मौत के घाट उतारने की धमकी देने वाले खालिस्तानी समर्थक एवं थाना अम्बाला शहर में दर्ज एफआईआर 184/18 के 53 आरोपियों को पुलिस जेल में डालें उपरोक्त शब्द हिन्दू तख़्त के राष्ट्रीय प्रचारक एवं एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरेश शांडिल्य ने जगाधरी गेट चौंक पर हिन्दू तख़्त व एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया के सैंकड़ों सदस्यों को संबोधित करते हुए कहे l आज पहले शांडिल्य के पालिका विहार स्थित निवास पर हिन्दू तख़्त व एटीएफआई सदस्यों की बैठक हुई और उसके उपरांत 100 से अधिक कारों के काफिलें में वीरेश शांडिल्य व उनके समर्थक खालिस्तान के खिलाफ बैनरों उठाये शहीदों के जयघोष करते हुए जगाधरी गेट चौंक पर पहुँचे और भारत माता की जय,इन्कलाब जिन्दाबाद , खालिस्तान नहीं बनने दिया जाएगा , शहीदों की सोच पर पहरा दिया जाएगा के नारे लगाये l इस अवसर पर शांडिल्य के अलावा कुलवंत सिंह मानकपुर,लखविन्द्र सिंह साधापुर,जसमीत सिंह जस्सी,बलदेव सिंह रोड़ा,दीपक शांडिल्य,रमनप्रीत सिंह ने भी अपने विचार रखते हुए कहा की जिन खालिस्तानी समर्थकों ने हिन्दू तख़्त के राष्ट्रीय प्रचारक वीरेश शांडिल्य को जिन्दा फूंकने की धमकी दी और जिन खालिस्तानी समर्थकों ने कहा की शांडिल्य को इंदिरा गाँधी की तरह मौत के घाट उतारा जाएगा उन्हें अम्बाला के एसपी अभिषेक जोरवाल तुरंत गिरफ्तार करें अन्यथा हिन्दू तख़्त व फ्रंट सदस्य सडकों पर उतरेंगे l
उसके बाद शांडिल्य के नेतृत्व में जलूस की शकल में तख़्त व फ्रंट के सदस्य पुलिस अधीक्षक अभिषेक जोरवाल के निवास पर पहुंचे और निवास के बाहर जमकर प्रदर्शन किया व खालिस्तान न बनने के नारे लगाये व शांडिल्य का दफ्तर फूंकने वाले आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की l इसके उपरांत हिन्दू तख़्त व एटीएफआई के सदस्यों ने शांडिल्य के नेतृत्व में एसपी अम्बाला को भारत के गृहमंत्री राजनाथ सिंह,हरियाणा के राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी व पंजाब के राज्यपाल वीपी बदनोर के नाम ज्ञापन सौंपा और कहा की जो पुलिस अधिकारी वीरेश शांडिल्य की सुरक्षा की फर्जी जांच कर रहे है और जो पुलिस विभाग में काली भेडें शांडिल्य को पाक व खालिस्तानी आतंकियों का निवाला बनाना चाहते है उनको बर्खास्त किय जाए व शांडिल्य की सुरक्षा की जांच निदेशक आईबी को करने के राजनाथ सिंह करने के आदेश दें l
साथ ही शांडिल्य ने पुलिस अधीक्षक को राजनाथ सिंह के नाम दिए ज्ञापन में कहा की जिन खालिस्तानियों ने शांडिल्य का दफ्तर जलाया,भारत माँ की तस्वीरें जलाई और वीरेश शांडिल्य को पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की तरह मौत के घाट उतारने की धमकी देने वालों को पुलिस गिरफ्तार करने के आदेश दें और पुलिस ने खालिस्तानियों से जो कार्यालय जलवाया उनकी गृह सचिव से जांच करवाई जाए l शांडिल्य ने गृहमंत्री को दिए ज्ञापन में कहा जैसे 1857 की क्रांति की नीवं अम्बाला से रखी गयी वैसे ही अम्बाला पुलिस ने उन्हें जेल में डालकर उनका खालिस्तानियों से कार्यालय जलवाकर अम्बाला से खालिस्तान की नीवं रख दी जिसकी जांच आईबी करें शांडिल्य ने कहा की यदि पुलिस व खट्टर सरकार उनको खालिस्तानियों से जिन्दा जलवाना चाहती है तो वह जिन्दा जलने के लिए तैयार है लेकिन किसी कीमत पर भी हिन्दुस्तान में खालिस्तान नहीं बनने दिया जाएगा l शांडिल्य ने देश की मीडिया से अपील की है की वह भी खालिस्तान के खिलाफ मुहीम चलायें ताकि पंजाब में फिर आतकवाद का दौर न आ सकें l
शिव कुमार मिश्र
Next Story
Share it