Begin typing your search...

किसान बिल को लेकर विधायक अभय सिंह ने दिया इस्तीफा

किसान बिल को लेकर विधायक अभय सिंह ने दिया इस्तीफा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

चंडीगढ़: केंद्र के नए कृषि कानूनों (New Farm Law) के विरोध में इंडियन नेशनल लोकदल (INLD) के नेता अभिय सिंह चौटाला (Abhay Singh Chautala) ने हरियाणा विधान सभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने तीनों नए कृषि कानूनों के खिलाफ अपना विरोध जताते हुए इस्तीफा हरियाणा असेंबली के स्पीकर को भेजा था, जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया है.

चंडीगढ़ जाकर स्पीकर को अपना इस्तीफा दिया

अभय सिंह चौटाला ने किसान आंदोलन के पक्ष में ऐलान किया था कि 26 जनवरी तक अगर केंद्र सरकार ने कानून वापस नहीं लिए तो वह विधायक पद से इस्तीफा दे देंगे. लेकिन जब उनकी यह मांग पूरी नहीं हुई तो वे अपने साथियों के साथ हरियाणा विधान सभा के स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता से मिलने के लिए चंडीगढ़ गए और उन्हें अपना इस्तीफा सौंप दिया. जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया.

ऐलनाबाद सीट से विधायक थे अभय चौटाला

बता दें कि अभय चौटाला हरियाणा के पूर्व सीएम देवीलाल के पोते और ओम प्रकाश चौटाला के छोटे बेटे हैं. शिक्षक भर्ती घोटाले में ओमप्रकाश चौटाला के जेल जाने के बड़े बेटे अजय चौटाला के पुत्र दुष्यंत चौटाला ने अलग होकर अपनी जननायक जनता पार्टी (JJP) बना ली. जिसके बाद INLD का नेतृत्व अब अभय चौटाला ही संभाल रहे हैं. वे हरियाणा की ऐलनाबाद सीट से विधायक थे.

इस्तीफा देने के बाद दादा देवीलाल को किया याद

इस्तीफा देने के बाद अभय चौटाला ने अपने दादा देवीलाल को याद किया. अभय चौटाला ने कहा,'मेरी रगों में ताऊ देवीलाल का खून है. उन्होंने हमेशा किसानों, कमेरे वर्ग और मजदूरों के हितों की राजनीति की. उनके लिए कुर्सी को हमेशा लात मार दी. प्रधानमंत्री सरीखा अहम पद छोड़ दिया. मैं तो सिर्फ विधायक का ही पद छोड़ रहा हूं.'


Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it