Begin typing your search...

2 घंटे सोनाली फोगाट के साथ क्या किया PA सुधीर सांगवान, सच आया सामने

सोनाली फोगाट को अपनी पत्नी बताता था PA सुधीर सांगवान, 2 घंटे बाथरूम में क्या किया?

2 घंटे सोनाली फोगाट के साथ क्या किया PA सुधीर सांगवान, सच आया सामने
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बीजेपी नेता और टिकटॉक स्टार सोनाली फोगाट का हत्या मामला सिर्खियों में हैं। इस मर्डर केस में रोज़ाना नए-नए खुलासे हो रहे हैं। शुक्रवार को गोवा पुलिस ने सुधीर सांगवान (Sudhir Sangwan) और उसके साथ सुखविंदर सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। इसी बीच सोनाली फोगाट मर्डर केस में नया अपडेट सामने आया है।

सोनाली फोगाट को पत्नी बताता था PA

रिपोर्ट्स के मुताबिक सोनाली फोगाट ने गुड़गांव ग्रीन्स में फ्लैट नंबर 901 रेंट पर लिया हुआ था, जोकि सुधीर सांगवान के नाम से रेंट पर लिया गया था। इसके लिए बकायदा पुलिस वेरीफिकेशन भी कराया गया था। सूत्रों की मानें तो सुधीर सांगवान ने जब यह फ्लैट रेंट पर लिया था तब यहां रहने वाले तमाम सदस्यों को उसने सोनाली फोगाट को अपनी पत्नी बताया था।

बड़ी बात ये है कि इस फ्लैट में सोनाली फोगाट गोवा जाने से पहले भी गई थीं. खबर है कि गोवा जाने से पहले सोनाली फोगाट और सुधीर सांगवान गुरुग्राम के इसी सोसायटी में आए थे और यहां अपनी सफारी गाड़ी खड़ी करके फिर टैक्सी से एयरपोर्ट गए थे।

2 घंटे बाथरूम में रखा बंद

आईजी ओमवीर सिंह ने आज कहा कि हमने CCTV फ़ुटेज रिकवर किया है जिसमें सुधीर सांगवान और सुखविंदर सोनाली के साथ पार्टी करते हुए दिखाई दे रहे हैं। सोनाली को जबरजस्ती ड्रग्स दिया गया था। सुखविंदर ने इस बात को माना है कि सोनाली को लिक्विड के फ़ॉर्म में ड्रग्स दिया गया। आरोपी बाथरूम में फोगाट को लेकर गए। वे दो घंटे वहीं रहे। क्या किया इस पर जब पूछताछ की गई तो कुछ नहीं बोल रहे हैं। हम पूछताछ कर रहे हैं ताकि आगे का पता लगा सकें।

बता दें कि सोनाली फोगाट की गोवा में 23 अगस्त को संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। सांगवान और सिंह 22 अगस्त को फोगाट के साथ गोवा गए थे। जहां तबीयत ठीक न लगने की शिकायत के बाद 23 अगस्त को सुबह उन्हें सेंट एंथनी अस्पताल ले जाया गया लेकिन वहां पहुंचने से पहले ही उनकी मौत हो चुकी थी।

साभार जनसत्ता

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it