Begin typing your search...

झज्जर के रोहतक रेवाड़ी हाईवे पर देखते ही देखते पचास गाड़ियाँ आपस में टकरा गयी, और फिर ...

झज्जर के रोहतक रेवाड़ी हाईवे पर देखते ही देखते पचास गाड़ियाँ आपस में टकरा गयी, और फिर ...
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

अब सर्दी के मौसम में कोहरे का असर शुरू हो गया है. इस समय आप अपनी गाडी को नियंत्रित स्पीड में चलायें अन्यथा हादसा हो सकता है. यह हादसा आपकी गलती से ही नहीं सामने वाले की गलती से भी हो सकता है. ऐसा ही हादसे में आज झज्जर के रोहतक रेवाड़ी हाईवे पर आज सुबह करीब पचास से ज्यादा गाड़ियां आपस में टकरा गई. जिससे हादसे में मृतकों की संख्या बढ़कर आठ हो गई है. वहीं हादसे में दस से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं, जिन्हे अलग अलग अस्पतालों में भर्ती करवाया गया है.

घटना के बाद झज्जर के नागरिक अस्पताल में कैबिनेट मंत्री ओपी धनखड़ पहुंचे और घायलों का हालचाल जाना, वहीं कैबिनेट मंत्री ओपी धनखड़ ने मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये और घायलों को एक-एक लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की. जानकारी के मुताबिक सभी मृतक झज्जर के किरडोझ गांव के रहने वाले थे और किसी परिजन की मौत पर शोक प्रकट करने के लिए जा दिल्ली के नजफगढ जा रहे थे.

जानकारी के मुताबिक झज्जर में रोहतक रेवाड़ी हाईवे पर बादले फ्लाइओवर पर कोहरे की वजह से एक के बाद एक करके पचास से ज्यादा गाड़ियां आपस में टकरा गई। इनमें स्कूल बस, कार, ट्रक और अन्य गाड़ियां शामिल है। हादसा कोहरे की वजह से माना जा रहा है.

मृतकों की पहचान इस प्रकार से हुई है। सतपाल पुत्र राममेहर, संतोष पत्नी चंद्रभान, कांता देवी पत्नी सतपाल, प्रेमलता पत्नी देवेंद्र, लिछमी देवी, रामकली पत्नी रोहताश, शीला देवी, खजानी देवी पत्नी जय किशन शामिल हैं। सभी झज्जर के किरड़ोध गांव के थे.

घायलों की सूची- पुष्पा पत्नी रमेश, मांगेराम पुत्र हरपाल सिंह, दिनेश पुत्र इंद्राज, मंजू देवी पत्नी सुदेश, राजबाला पत्नी राजेश कुमार, रमेश कुमार पुत्र देवीलाल, सतीश कुमार पुत्र चंद्र भान, शमशेर सिंह पुत्र धर्म सिंह, विनोद कुमार पुत्र राधे श्याम और हेमराज पुत्र कुंजन सिंह शामिल हैं.

Special Coverage News
Next Story
Share it