Top
Begin typing your search...

कही दहेज के लिए टूटी शादी,तो कही दहेज न लेने पर पेश की मिशाल!

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के पैतृक गांव निंदाना के संजीत नेहरा ने पेश की मिशाल।

कही दहेज के लिए टूटी शादी,तो कही दहेज न लेने पर पेश की मिशाल!
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

दोस्त की बाइक मांग बिना दहेज के 50 किलोमीटर दूर बाइक पर लाया दुल्हन,हरियाणा रोडवेज़ में है कार्यरत। पहले साईकल पर दुल्हनिया जाने का था इरादा,रोड़ खराब होने के चलते मांगी दोस्त की बाइक। बाइक पर दुल्हन लाते हुए शोशल मीडिया पर वायरल हुई तस्वीर,देश मे बना चर्चा का विषय।

हरियाणा में कही दहेज न मिलने के कारण शादी टूटी है तो कही दहेज न लेने की मिसाल पेश की है।हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के पैतृक गांव निंदाना के संजीत नेहरा ने दहेज के लोभियों के लिए मिशाल पेश करते हुए दोस्त की बाइक उधारी मांग बिना दहेज के अपने सपनो की रानी लेकर आया है।संजीत नेहरा का बाइक पर दुल्हन लाने का वीडियो शोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है जहाँ नई नवेली दुल्हन ओर दूल्हे की खूब सराहना हो रही है।हरियाणा रोडवेज़ में क्लर्क के पद पर तैनात संजीत नेहरा ने कहा है कि दहेज न लेकर उसने कोई महान काम नही किया ऐसा सबको करना चाहिए,ओर वो दहेज के बिल्कुल खिलाफ है।गौरतलब है कि हरियाणा में इन दिनों गाड़ी ओर भारी भरकम रकम मांगने पर कई शादिया टूट गई है जो शर्मशार करने वाला है ऐसे में दहेज न लेकर संजीत। नेहरा ऐसे लोगो के लिए प्रेरणा बना है।

फूलों से सजी बाइक पर दूल्हा दुल्हन का एक वीडियो शोशल मीडिया पर आजकल तेजी से वायरल हो रहा है,ये नजारा है हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के पैतृक गांव निंदाना के संजीत नेहरा का।जो

दोस्त की बाइक उधारी मांग और उसे फूलों से सजा कर बिना दहेज के दुल्हन लेकर आ रहा है। जो शोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

दरसल रोहतक के निंदाना गांव के एक युवक ने दहेज लोभियों को सबक सिखाने की मिसाल पेश की है,जहाँ युवक बिना दहेज के बाइक पर दुल्हन लाया है जो इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है।हरियाणा रोडवेज विभाग में क्लर्क के पद पर कार्यरत मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के पैतृक रोहतक के गांव निंदाणा का संजीत नेहरा ने बिना किसी दान दहेज के शादी करके मिसाल कायम की है। एक तरफ जहां दक्षिण हरियाणा में एक सब इंस्पेक्टर द्वारा दहेज में लग्जरी गाड़ी की मांग की चर्चा जोरों पर थी और

इसके चलते दुल्हन के अरमानों पर पानी फिर गया था। वहीं, किसान का बेटा संजीत नेहरा ने बाइक की डोली बनाकर अपने सपनों की रानी को मंडप से घर तक लाने का शानदार कार्य किया है। संजीत नेहरा के इस कार्य की चौतरफा प्रशंसा की जा रही है और युवा भी इससे प्रेरित हो रहे हैं।न केवल संजीत ही नही बल्कि संजीत के बड़े भाई ने भी बिना दहेज के शादी की थी।

बाइक पर अपनी दुल्हन पूजा को लेकर आने वाले संजीत का कहना है कि वह युवाओं को संदेश देना चाहता है कि उन्हें दुल्हन के रूप में सात पीढिय़ों का मान-सम्मान रखने वाले जीवन संगिनी मिलती है। फिर दहेज की बलिवेदी पर हम किसी के सपनों को क्यों तार-तार करें।

इसलिए मैं सभी युवाओं से आग्रह करता हूं कि दान दहेज को दरकिनार करते हुए शालीनता से शादी करें। संजीत नेहरा ने दक्षिणी हरियाणा में दहेज को लेकर हुए वाकया पर भी गहरा रोष प्रकट करते हुए इसे समस्त समाज के लिए एक शर्मनाक घटना करार दिया।संदीप का कहना है कि उसने कोई महान काम नही किया ऐसा सबको करना चाहिए,न केवल दहेज लेना चाहिए बल्कि अपनी पत्नी के कामों में हाथ भी बटाना चाहिए।

वही संजीत के बिना दहेज के शादी करने पर संजीत के माता पिता और उसकी पत्नी पूजा बाहर खुश है।गौरतलब है बाइक को डोली की तरह सजा एक नई नवेली दुल्हल का वीडियो शोशल मीडिया और तेजी से वायरल हो रहा है जो पूरे देश मे चर्चा का विषय बना हुआ है

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it