Begin typing your search...

देश में हर चौथी महिला मोटापे से ग्रस्त : NFHS-5 रिपोर्ट

राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण-5 (NFHS-5) के आधिकारिक आंकड़ों से पता चलता है कि हर चार में से एक भारतीय मोटापे से ग्रस्त हैं।

देश में हर चौथी महिला मोटापे से ग्रस्त : NFHS-5 रिपोर्ट
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मोटापे की समस्या से पूरी दुनिया परेशान है। जहां तक इंडिया की बात है ​तो राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण-5 (NFHS-5) के आधिकारिक आंकड़ों से पता चलता है कि हर चार में से एक भारतीय मोटापे ( India Obese ) से ग्रस्त हैं। राष्ट्रीय स्तर पर महिलाओं में मोटापा 21 प्रतिशत से बढ़कर 24 प्रतिशत और पुरुषों में 19 प्रतिशत से बढ़कर 23 प्रतिशत हो गया है। यानि महिलाएं मोटापे का शिकार ज्यादा हैं। राजस्थान, झारखंड और बिहार की महिलाएं मोटापे के मामले में सबसे ज्यादा बेहतर स्थिति में हैं।

एनएफएचएस पांच की रिपोर्ट के मुताबिक ग्रामीण पुरुष और महिलाएं अपने शहरी समकक्षों की तुलना में पतले हैं। मोटे लोगों की जनसंख्या का प्रतिशत ग्रामीण क्षेत्रों (20 प्रतिशत) की तुलना में शहरी (33 प्रतिशत) क्षेत्रों में अधिक है। चिंता की बात यह है कि वजन या मोटापे से ग्रस्त पुरुषों और महिलाओं के अनुपात में लगातार वृद्धि हो रही है।

पुडुचेरी (46 फीसदी), चंडीगढ़ (44 फीसदी), दिल्ली, तमिलनाडु, केरल और पंजाब (41 फीसदी प्रत्येक) में मोटापे से ग्रस्त महिलाओं का अनुपात सबसे ज्यादा है। इसकी तुलना में राजस्थान, झारखंड और बिहार के बाद गुजरात में दुबली महिलाओं का अनुपात सबसे अधिक है। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में अधिक वजन वाले पुरुषों (45 प्रतिशत) का अनुपात सबसे अधिक है। इसके बाद पुडुचेरी (43 प्रतिशत) और लक्षद्वीप (41 प्रतिशत) हैं।

Sakshi
Next Story
Share it