Top
Begin typing your search...

कोविड 19 का संक्रमण आपको हो गया है, अब क्या करें? सुनिए डॉ प्रदीप कुमार शुक्ला की काम की बात

कोविड 19 का संक्रमण आपको हो गया है, अब क्या करें? सुनिए डॉ प्रदीप कुमार शुक्ला की काम की बात
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

डॉ प्रदीप कुमार शुक्ला

अव्वल तो आपको संक्रमण होना ही नहीं चाहिए था पर अब हो ही गया है तो ( ज्यादा )घबराइए नहीं। यहाँ पर ध्यान देने वाली बात यह है की शब्द ' ज्यादा ' पर ज़ोर दिया गया है। आप जानते ही हैं कि 100 संक्रमित लोगों में से 5 - 10 लोग अस्पताल में भर्ती हो जाने की काबिलियत रखते हैं। अब हमारे देश में काबिलियत होने भर से सीट नहीं मिल जाती यह भी आपको पता है। कितने तो एम्मे - बीए नाली साफ करने के लिए भी योग्य नहीं माने जाते। जितने मरीज हैं उतने न तो बिस्तर हैं न डॉक्टर/नर्स। अब इन्हे हम आयात भी नहीं कर सकते। बिस्तर और ऑक्सीज़न का प्रबंध हम कर सकते थे पर सरकार भी क्या - क्या करे, चुनाव ही ससुरे पीछा नहीं छोडते।

चलो काम की बात करते हैं।

जैसे ही आपको पता लगता है कि आपको बुखार के साथ जुकाम, खांसी, गले में दर्द, बदन दर्द, जुलाब, स्वाद और सूंघने की शक्ति में कमी, जोड़ों में दर्द, आँख आना आदि में से कुछ भी हो गया है तो आप मान कर चलिये कि आपको कोविड19 हो गया है, जब तक कोई दूसरी बीमारी आपका चिकित्सक तय न कर दे। ( यह केवल उन शहरों के लिए लागू जहां कोरोना संक्रमण की स्थिति भयावह है)

आपको यदि शुगर की बीमारी, उच्च रक्तचाप, किडनी या हृदय का कोई भी पुराना रोग है तो आपको ज्यादा सचेत हो जाना चाहिए।

कोरोना की जांच से क्या फायदा जब 95 प्रतिशत लोगों को कोई खास इलाज की जरूरत नहीं पड़ती?

यदि आप उन 5 प्रतिशत अभागे लोगों की लिस्ट में आ जाते हैं और आपके पास कोविड19 की रिपोर्ट नहीं है तो आप किसी कोविड सेंटर में भर्ती नहीं किए जा सकते। आपको जीवन रक्षक दवाएं जैसे remdesivir, का इंजेक्शन भी नहीं मिलेगा और बाकी इलाज भी उस तरीके से नहीं किया जाएगा जिसकी आवश्यकता होगी। आप जनरल आईसीयू में भर्ती भी हो गए तो आप वहाँ मौजूद गंभीर मरीजों को कोरोना प्रसाद बाँट देंगे।

आपका RAT ( रैपिड एंटीजेन टेस्ट ) पॉज़िटिव है पर रिपोर्ट नहीं है तो भी आपको कोविड सेंटर में भर्ती नहीं किया जाएगा। ( ग्रे मार्केट में RAT किट्स प्रचुर मात्रा में उपलब्ध हैं )

जिस दिन आपको पहला लक्षण आता है उस दिन को आप कैलेंडर पर मार्क कर लीजिये। यह आपका पहला दिन है। कोविड 19 ने अपने कैलेंडर पर आपको मार्क कर लिया है, और वह मोटा - मोटी तारीख के अनुसार आपको तंग करता रहेगा।

आप कोविड19 से ग्रसित हैं यदि आप rtpcr या RAT द्वारा पोसिटिव हैं। यदि आप लगातार निगेटिव भी हैं और आपके कोविड लक्षण बने हुए हैं और आपका HRCT ( छाती का सीटी स्कैन ) देखकर आपके चिकित्सक को कोविड19 लगता है।

1-5 दिन :

वाइरस आपके शरीर में लगातार दिन दूनी रात चौगुनी गति से संतति वृद्धि में लगा हुआ है, पर आपको बुखार जुकाम के अलावा ज्यादा परेशानी नहीं है । यही वक्त है जब आप दूसरों को प्रसाद बाँट सकते हैं कि हम तो डूबेंगे सनम आपको भी ले डूबेंगे। आप यदि इस तरह के प्राणी नहीं हैं तो चुपचाप घर के कोने में खुद को समेट लीजिये।

TAB PARACETAMOL

500 MG - यदि आपका वजन 50 किलो से कम है

650 MG - 50 से ज्यादा। एक गोली 6 घंटों के अंतराल पर ली जा सकती है, अवश्यकता होने पर।

TAB ZINCOVIT एक टैब सुबह शाम

TAB VITAMIN C 500 MG एक टैब सुबह शाम

TAB VITAMIN D ( 60000 IU ) एक टैब पहले दिन बस ( रोज नहीं )

( IVERMECTIN, AZITHROMYCIN, DOXICYCLIN का जिक्र हमने जानबूझ कर नहीं किया है क्योंकि इनकी उपयोगिता अभी पुख्ता तौर पर साबित नहीं कि जा सकी है और इन्हे केवल प्रशिक्षित डॉक्टर के द्वारा व्यक्तिगत रूप से किसी रोगी के लिए लिखने पर ही लिया जाना चाहिए )

खूब ढेर सारा पानी / तरल पदार्थ ( 3-4 लीटर )

खूब आराम करें

मनपसंद खाना खाएं

अनुलोम-विलोम, योगा करें जितना आराम से कर पाएँ, अपने आप को थकाएँ नहीं।

( हालांकि ये चीजें लिस्ट में ऊपर होनी चाहिए पर लोग उपचार केवल टैबलेट ही मानते हैं )

इन दिनों ( 1- 5 दिन ) इससे भी ज्यादा जरूरी बात है मॉनिटरिंग मतलब कोविड 19 की जासूसी।

आपको अस्पताल में बिस्तर खोजने के काम पर लग जाना चाहिए यदि -

- पाँच दिन बाद भी आपका बुखार बिलकुल नहीं उतर रहा।

- आपको सांस लेने में दिक्कत हो रही है, आप एक मिनट मे 24 बार से ज्यादा सांस ले रहे हैं।

- 6 मिनट टहलने के बाद SPO2 - 94 प्रतिशत से कम हो रहा है

- आपको पहले से गंभीर बीमारिया हैं।

- आप घर में अकेले हैं।

( क्रमशः )

- डॉ प्रदीप कुमार शुक्ल

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it