Begin typing your search...

उत्तरी कोरिया के अनुसार पेलोसी है अमेरिका के लिए मुसीबतों की जड़

उत्तरी कोरिया ने अमेरिका की प्रतिनिधि सभा के निचले सदन की स्पीकर पेलोसी नैंसी पेलोसी को अमेरिका के लिए मुसीबतों की जड़ करार दिया है। उत्तरी कोरिया ने टिप्प्णी पेलोसी के दक्षिणी कोरिया के उनके दौरे की प्रतिक्रिया में रही।

उत्तरी कोरिया के अनुसार पेलोसी है अमेरिका के लिए मुसीबतों की जड़
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

उत्तरी कोरिया ने अमेरिका की प्रतिनिधि सभा के निचले सदन की स्पीकर पेलोसी नैंसी पेलोसी को अमेरिका के लिए मुसीबतों की जड़ करार दिया है। उत्तरी कोरिया ने टिप्प्णी पेलोसी के दक्षिणी कोरिया के उनके दौरे की प्रतिक्रिया में रही।

उत्तरी कोरिया के विदेश मंत्रालय के अधिकारी ने अमरीकी प्रतिनिधि सभा के निचले सदन की स्पीकर पेलोसी की दक्षिणी कोरिया यात्रा की निंदा की है। उत्तरी कोरिया के एक अधिकारी ने कहा कि पेलोसी ने दक्षिणी कोरिया की यात्रा के दौरान वहां के अधिकारियों से उत्तरी कोरिया के ख़तरे से निबटने के लिए ठोस और मज़बूत क़दम उठाने जाने की बात कही है। उत्तरी कोरिया के इस अधिकारी ने कहा कि इसके पीछे अमरीकी की विध्वंसक नीति है। उन्होंने कहा कि वह पियुंगयांग और कोरिया में टकराव करवाकर कोरिया प्रायद्वीप की स्थति को तनावपूर्ण बनाया चाहता है। उत्तरी कोरिया ने नैसी पेलोसी को विश्व शांति के लिए गंभीर ख़तरा बताया।

उत्तरी कोरिया के अधिकारी ने कहा कि इससे पहले नैंसी पेलोसी ने यूक्रेन की यात्रा करके यूक्रेन को उकसाकर तनावपूर्ण माहौल पैदा कर दिया था और अब ताइवान की अपनी विवादित यात्रा से पेलोसी ने क्षेत्र में तनाव पैदा कर दिया था। उनका कहना था कि नैंसी पेलोसी जहां भी गईं उनके क्रियाकलापों के कारण अमरीका को इसकी मंहगी भरपाई करनी पड़ी।

याद रहे कि अमरीका और उसके स्थानीय घटकों ने उत्तरी कोरिया के विरुद्ध कड़े प्रतिबंध लगा रखे हैं। उल्लेखनीय है कि नैंसी पेलोसी ने हाल ही में ताइवान का दौरा किया था। इसपर चीन ने कड़ा एतेराज़ जताया था। ताइवान के पेलोसी के दौरे के संदर्भ में चीन ने तो सैनिक कार्यवाही की भी धमकी दे डाली थी। ताइवान को चीन अपना अभिन्न अंग मानता है।

News Desk Editor
Next Story
Share it