Top
Begin typing your search...

ड्रग्स तस्करी और निर्मम हत्या… ड्रग्स किंग की पत्नी दोषी करार, अब जेल में कटेगी ब्यूटी क्वीन की सारी जिंदगी!

बता दें कि एम्मा कोरोनेल एइस्प्यूरो फरवरी में वर्जीनिया राज्य के एक एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया गया था.

ड्रग्स तस्करी और निर्मम हत्या… ड्रग्स किंग की पत्नी दोषी करार, अब जेल में कटेगी ब्यूटी क्वीन की सारी जिंदगी!
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मेक्सिकन ड्रग सरगना जोकिन 'अल चापो' गुजमैन (Joaquin 'El Chapo' Guzman) की पत्नी एम्मा कोरोनेल एइस्प्यूरो (Emma Coronel Aispuro) को अमेरिका की अदालत ने सिनालोआ कार्टेल (Sinaloa cartel) को चलाने में अपने पति की मदद करने का दोषी पाया है. एइस्पूयरो को गुरुवार को वाशिंगटन डीसी में यूनाइटेड स्टेट्स डिस्ट्रिक्ट कोर्ट के सामने पेश किया गया. बता दें कि एम्मा कोरोनेल एइस्प्यूरो फरवरी में वर्जीनिया राज्य के एक एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया गया था.

'अल चापो' की पत्नी को अवैध ड्रग्स को वितरित करने की साजिश रचने, मनी लॉन्ड्रिंग की साजिश रचने और सिनालोआ कार्टेल के साथ वित्तीय लेनदेन में शामिल होने के तीन मामलों में दोषी पाया गया. अपनी याचिका में एम्मा ने इस बात को भी स्वीकार किया कि उसने अपने पति की 2015 में मेक्सिको की एक जेल से भागने (Mexican prison Escape) में मदद की. एम्मा को ड्रग्स वितरित करने का दोषी पाए जाने पर आजीवन जेल की सजा मिल सकती है. इसके अलावा, अन्य दो अपराधों के लिए उसे 20 और 10 साल जेल की सजा मिलेगी.

15 सितंबर सुनाई जाएगी एम्मा को सजा

सुनवाई के दौरान 'अल चापो' की पत्नी ने कहा कि उसे अपराधों के बारे में मालूम है और उसके दोषी पाए जाने पर वह किन परिणामों को भुगतेगी, इससे भी वह अच्छी तरह वाकिफ है. उसने जज से कहा, हर चीज स्पष्ट है. अमेरिकी डिस्ट्रिक्ट जज रूडोल्फ कॉन्ट्रेरास ने सजा सुनाए जाने को लेकर संभावित तारीख 15 सितंबर तय की है. एम्मा सिनालोआ कार्टेल के जरिए कोकीन, मेथामफेटामाइन, हेरोइन और गांजा की तस्करी अमेरिका में करती थी. इसके अलावा, वह अपने पति के मल्टीबिलियन-डॉलर कार्टेल को चलाने में मदद भी करती थी.

फरवरी में डलास एयरपोर्ट से गिरफ्तार हुई 'अल चापो' की पत्नी

31 वर्षीय पूर्व ब्यूटी क्वीन को फरवरी में वर्जीनिया के डलास इंटरनेशनल एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया गया था. एम्मा पर आरोप था कि उसने 2012 से 2014 की शुरुआत तक गुजमैन को ड्रग्स ट्रैफिंग में मदद करने के लिए सूचनाओं का आदान-प्रदान किया. वह मेक्सिको की जेल में बंद रहे गुजमैन को 2014 तक लगातार मैसेज देती रहती थी. गुजमैन का गैंग लोगों को अगवा करने, कोकिन की तस्करी करने के लिए कुख्यात है. बता दें कि एम्मा कोरोनेल एइस्प्युरो के पास अमेरिका और मेक्सिको की दोहरी नागरिकता है.

इतनी बड़ी मात्रा में ड्रग्स की सप्लाई की

अमेरिकी अभियोजकों ने बताया कि 'अल चापो' के कार्टेल ने अपने 25 साल के शासन के दौरान अमेरिका में बड़ी मात्रा में कोकीन और अन्य ड्रग्स की तस्करी की. सिनालोआ कार्टेल ने अमेरिका में 450,000 किलोग्राम से अधिक कोकीन, 90,000 किलोग्राम हेरोइन, 45,000 किलोग्राम मेथामफेटामाइन और लगभग 90,000 किलोग्राम गांजे की तस्करी की. 64 वर्षीय गुजमैन को जेल से भागने के बाद गिरफ्तार किया गया और उसे अमेरिका प्रत्यर्पित किया गया.

'अल चापो' ने खड़ी की खुद की आर्मी

अमेरिका प्रत्यर्पित होने पर 'अल चापो' को 2019 में आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई. उसके सिनालोआ कार्टेल (Sinaloa cartel) ने अपने 25 साल के अपराध से भरे अपने शासनकाल में अमेरिका में बड़ी मात्रा में कोकीन और ड्रग्स की तस्करी की. 'अल चापो' कितना कुख्यात बदमाश था. इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उसने अपनी एक 'सेना' खड़ी की हुई थी. इसका काम कार्टेल के रास्ते में आने वाले किसी भी व्यक्ति को अगवा करना, प्रताड़ित करना और हत्या करना था.

कौन है ड्रग माफिया 'अल चापो' ?

साल 1957 में जन्मे 'अल चापो' को दुनिया के सबसे खतरनाक बदमाशों में से एक माना जाता है. किसान परिवार से आने वाले 'अल चापो' ने घर के आस-पास अफीम और गांजे की खेती से ड्रग कारोबार में पहला कदम रखा. धीरे-धीरे इसने इन ड्रग्स की सप्लाई करना शुरू किया. इसके बाद ड्रग्स तस्करी की दुनिया में अल चापो प्रख्यात होने लगा. उसने मिगेल एंजेल फेलिक्स गालार्दो को अपना गॉडफादर बनाया. वहीं, 1980 में वह मैक्सिको के प्रभावशाली सिनालोआ ड्रग्स की तस्करी करने वाले समूह का मुखिया बन गया.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it