Begin typing your search...

पकड़े गए अमेरिकियों को फांसी दिए जाने की आशंका से वाशिंगटन चिंतित

अमेरिका की राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रवक्ता ने यूक्रेन से गिरफ्तार किये गये अमेरिकियों के भविष्य को लेकर चिंता और आशंका जताई है

पकड़े गए अमेरिकियों को फांसी दिए जाने की आशंका से वाशिंगटन चिंतित
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

अमेरिका की राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रवक्ता ने यूक्रेन से गिरफ्तार किये गये अमेरिकियों के भविष्य को लेकर चिंता और आशंका जताई है कि गिरफ्तार अमेरिकियों को रूस फांसी दे सकता है। समाचार एजेन्सी फार्स की रिपोर्ट के अनुसार रूसी राष्ट्रपति के प्रवक्ता दिमित्री पिस्कोव ने कहा है कि जो अमेरिकी लड़ाके यूक्रेन में पकड़े गये हैं जनेवा कंवेन्शन उन पर लागू नहीं होता है और उनकी यह बात वाहट हाउस की चिंता का कारण बनी है। इसी प्रकार जान कर्बी ने भी गिरफ्तार अमेरिकी लड़ाकों को फांसी पर चढ़ा दिये जाने के प्रति चिंता जताई है।

वाइट हाउस में जान कर्बी ने एक पत्रकार सम्मेलन में कहा कि सबसे पहले हम गिरफ्तार होने वाले दोनों अमेरिकियों की हालत जानना चाहते हैं। इसी प्रकार उन्होंने रूसी राष्ट्रपति के प्रवक्ता के बयान की प्रतिक्रिया में कहा कि यह खेद की बात है कि एक रूसी अधिकारी यूक्रेन में पकड़े गये अमेरिकी नागरिकों के मृत्युदंड को वैध समझे।

ज्ञात रहे कि रूस ने यूक्रेन से दो पूर्व अमेरिकी सैनिकों को पकड़ा है, इनके नाम अलेक्जेंडर ड्रूके और एंडी हुइन्ह हैं। रूस का दावा है कि ये दोनों यूक्रेन की ओर से जंग में शामिल थे। यूक्रेनी अधिकारियों का कहना है कि दोनों अपनी इच्छा से यूक्रेनी सेना में रूस से लड़ाई करने के लिए शामिल हुए थे। जानकार हल्कों का मानना है कि रूस शायद गिरफ्तार किये गये अमेरिकियों को मृत्युदंड नहीं देगा बल्कि उसके बदले में कोई लेनदेन करेगा।

माजिद अली खां

About author
माजिद अली खां, पिछले 15 साल से पत्रकारिता कर रहे हैं तथा राजनीतिक मुद्दों पर पकड़ रखते हैं. 'राजनीतिक चौपाल' में माजिद अली खां द्वारा विभिन्न मुद्दों पर राजनीतिक विश्लेषण पाठकों की सेवा में प्रस्तुत किए जाते हैं. वर्तमान में एसोसिएट एडिटर का कर्तव्य निभा रहे हैं.
Next Story
Share it