Top
Begin typing your search...

J-K: शोपियां में सुरक्षाबलों ने ढेर किए 3 आतंकी- एक ने किया सरेंडर, ऑपरेशन जारी

जम्मू कश्मीर पुलिस के मुताबिक मुठभेड़ गुरुवार तड़के शुरू हुई.

J-K: शोपियां में सुरक्षाबलों ने ढेर किए 3 आतंकी- एक ने किया सरेंडर, ऑपरेशन जारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गुरुवार सुबह दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले के कनिगम इलाके में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ (Shopian Encounter) के दौरान तीन आतंकवादी (Three Terrorist Killed) मारे गए हैं. वहीं एक नए भर्ती हुए आतंकवादी ने सरेंडर कर दिया. कश्मीर जोन पुलिस के मुताबिक, भर्ती होने वाले आतंकी की पहचान तौसीफ अहमद के रूप में की गई है, वो अल बदर आतंकी संगठन में शामिल होने वाला नया आतंकी था.

जम्मू कश्मीर पुलिस के मुताबिक मुठभेड़ गुरुवार तड़के शुरू हुई. पुलिस ने बताया कि सरेंडर के प्रस्ताव को ठुकराते हुए घेरे गए आतंकवादियों ने जॉइंट सर्च टीम पर गोलीबारी की और ग्रेनेड भी फेंका. सुरक्षाबलों ने गोलीबारी का जवाब देते हुए 3 आतंकवादियों को एनकाउंटर में ढेर कर दिया. फिलहाल इलाके में सुरक्षाबल तलाशी अभियान चला रहे हैं.

नाथीपोरा में 2 आतंकी ढेर

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में सोपोर के नाथीपोरा इलाके में सुरक्षाबलों के साथ आतंकियों के बीच बुधवार को एक मुठभेड़ हुई. इस मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों ने एक पाकिस्तानी आतंकी को घेर लिया और दो आतंकियों को भी ढेर कर दिया. बुधवार रात मारे गए दो आतंकवादियों में से एक की पहचान टॉप लश्कर कमांडर (Top Lashkar Commander) के रूप में हुई है, जो इस साल 29 मार्च को दो पार्षदों की हत्या में शामिल था. वहीं, दूसरे आतंकी की पहचान सोपोर के ही रहने वाले एक लोकल आतंकी के रूप में की गई है जो हाल ही में आतंकवादी रैंकों में शामिल हुआ था.

एक पाकिस्तानी आतंकी

जम्मू कश्मीर पुलिस ने कहा कि इन दोनों में से एक आतंकी हमास उर्फ ​​असरार उर्फ ​​सरिया एक पाकिस्तानी नागरिक था, जो लश्कर-ए-तैयबा (LeT) से जुड़ा हुआ था और जिंगीयर, वारपोरा, हाटलंगू, ब्राथ, दारपोरा, बोमाई, जालुरा और नाथीपोरा जैसे इलाकों में सक्रिय था. कश्मीर इंस्पेक्टर जनरल (IG) विजय कुमार ने कहा, "वह मार्च 2018 से उत्तरी कश्मीर में सक्रिय था और जम्मू कश्मीर पुलिस की तरफ से हाल ही में जारी किए गए टॉप 60 आतंकियों की लिस्ट में शामिल था और युवाओं को गुमराह करने के काम में लगा हुआ था".

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it