Begin typing your search...

नवरात्रि में इन उपायों को करें और बदलें अपना जीवन, जानिए किन उपायों से मिलेगी नौकरी, किससे मिलेगा धन, कौन करेगा कर्ज मुक्त

Ghat establishment, Shubh Muhurta, Worship method, Durga Puja, When to do Durga Puja, Durga Puja Muhurta, How to do Durga Puja,
X

Ghat establishment, Shubh Muhurta, Worship method, Durga Puja, When to do Durga Puja, Durga Puja Muhurta, How to do Durga Puja,

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

माना जाता है कि नवरात्रि के दिनों में माता धरती पर अपने भक्तों के बीच विचरण करती हैं. ऐसे में कुछ खास उपाय करके मां दुर्गा तक अपनी मनोकामना पहुंचाई जा सकती है और उनसे इसकी पूर्ति की प्रार्थना की जा सकती है।

ऐसी मान्यता है कि नवरात्र के लिए किए गए उपाय जल्दी ही शुभ फल प्रदान करते हैं। धन, संतान, प्रमोशन, विवाह, रुके हुए कार्य… कई मनोकामनाएं इन 9 दिनों में किए गए उपायों से पूरी हो सकती हैं। अगर आपके मन में भी कोई मनोकामना है।

नवरात्रि जहां नौ दिन तक माँ दुर्गा की आराधना करके आध्यात्मिक शक्ति प्राप्त करने का त्यौहार है वहीं कुछ सरल नवरात्री के उपाय करके आप अपने जीवन की बहुत सी समस्याओं को सदा के लिए समाप्त कर सकते हैं।

मनोकामना पूरी करने के लिए करें ये उपाय:-

पूरे नौ दिन अखंड दीपक व घट के सामने बैठकर सिद्ध कुजिका स्त्रोत का पाठ करें. हर दिन एक-एक गुलाब का फूल बढ़ाते जाएं. नौवें दिन नौ गुलाब अर्पण कर मां से प्रार्थना करें. ऐसा करने से मनोकामना पूरी होती है.

धनवृद्धि के लिए करें ये उपाय:-

पूरी नवरात्रि में लाल आसन पर बैठकर संध्याकाल में जो जातक विष्णु सहस्रनाम तथा ललिता सहस्रनाम का पाठ करता है और रोज़ाना एक कमल का पुष्प माता को अर्पण करता है।

नवरात्रि में मां दुर्गा की आराधना लाल रंग के कंबल के आसन पर बैठकर करना अति उत्तम माना गया है। इससे सभी मनोकामनाओं की पूर्ति होती है।

नवरात्र में नौ दिन तक रोज सुबह जल्दी उठ कर स्नान करने के बाद स्वच्छ वस्त्र धारण करे और 108 मनकों वाली स्फटिक की माला लेकर नौकरी या रोजगार प्राप्ति के लिए निम्नलिखित मंत्र का मंत्र का जप करें। नवरात्र मैं शुरू करके ३१ दिन तक लगातार इस मंत्र का १०८ बार जप करे तो नौकरी प्राप्ति में मदद मिलेगी।

'ऊं हृीं वाग्वादिनी भगवती मम कार्य सिद्धि कुरु कुरु फट् स्वाहा'

नवरात्रि के नौ दिन रोज शिव मंदिर जाएं और शिवलिंग पर दूध, दही, घी, शहद और शक्कर चढ़ाकर अभषेक करे। अभिषेक के बाद शुद्ध जल चढ़ाएं और शंकर जी को चंदन, पुष्प एवं धूप, दीप अर्पित करें।पूजा के अंत मैं पूरे मंदिर की झाड़ू लगाकर सफाई करें। नवमी के दिन रात 10 बजे बाद हवन करे और "ऊँ नम: शिवाय" मंत्र की घी से 108 आहुति दें। नवमी के बाद 40 दिनों तक रोज "ऊँ नम: शिवाय" मंत्र की पांच माला का जप भगवान शिव के सामने करें। आपकी सारी मनोकामना बहुत जल्दी पूरी होगी

गृह क्लेश हो रहा हो या कोई परेशानी घर में हो तो नवरात्रि में नौं दिनों तक लगातार पान के पत्ते पर केसर रखकर दुर्गा स्त्रोत और दुर्गा जी की नामावली का पाठ करें। घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होने लगेगा।

नवरात्रि के मंगलवार के दिन एक साबूत पत्ता लेकर उसमें लौंग और इलायची रखें। उसका बीड़ा बना लें। हनुमान मंदिर में जाकर यह बीड़ा अर्पित कर दें। कर्ज की समस्या से छुटकारा पाने का यह अचूक उपाय है।

व्यापार में सफलता प्राप्त करने के लिये नवरात्रि में नौं दिनों तक एक ही समय पर पान का बीड़ा मां दुर्गा के मंदिर में जाकर चढ़ाएं।

नवरात्रि के दौरान मां दुर्गा के समक्ष गुग्‍गल की सुगंध वाली धूप जलाएं। मान्यता है कि ऐसा करने से कर्ज से मुक्ति मिलती है।

जीवन में सुख, समृद्धि, धन, यश की प्राप्ति करना चाहते हैं, तो गुप्त नवरात्रि में मां दुर्गा के इस प्रभावशाली मंत्र का जाप करें. ये आपकी मनोकामनाओं की पूर्ति कर सकता है।

ते सम्मता जनपदेषु धनानि तेषां तेषां यशांसि न च सीदति धर्मवर्ग:।

धन्यास्त एव निभृतात्मजभृत्यदारा येषां सदाभ्युदयदा भवती प्रसन्ना।।

यदि आप अपने कार्यक्षेत्र में सफलता और उन्नति चाहते हैं तो पूजा के समय मां दुर्गा के इस मंत्र का जाप करें। आपको सफलता और उन्नति के साथ उत्तम स्वास्थ्य भी प्राप्त होगा

देहि सौभाग्यम अरोग्यं देहि मे परमं सुखम्।

रूपं देहि जयं देहि यशो देहि द्विषों जहि।।

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, नवरात्रि के समय में मां दुर्गा को श्रृंगार सामग्री अर्पित करने से अखंड सौभाग्य प्राप्त होता है और सुखमय दाम्पत्य जीवन का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

नवरात्र में पड़ने वाले सोमवार और शनिवार के दिन शिवलिंग पर काले तिल और गंगाजल चढ़ाएं ऐसा करने से अनेक बीमारियों से मुक्ति मिल जाती है।

नवरात्री के किसी भी दिन प्रात: माता दुर्गा की पूजा के समय उनके श्री चरणों में 108 गुलाब के पुष्प अर्पित करें। और सवा किलो साबुत लाल मसूर लाल कपड़ें में बांधकर अपने सामने रख ले। घी का दीपक जलाकर माता के निम्नलिखित मंत्र का 108 बार जाप करें। मंत्र जाप के पश्चात मसूर को अपने ऊपर से 7 बार उसार कर किसी भी सफाई कर्मचारी को दान में दे दें। दुर्गा माता की कृपा से कर्जें से छुटकारा मिल जायेगा।

"सर्वमंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थ साधिके । शरण्ये त्र्यंबके गौरी नारायणि नमोस्तुते "

नवरात्र मैं नौ दिन तक रोज सुबह जल्दी "श्रीरामरक्षा स्तोत्र" का पाठ करने से हर कार्य मैं सफलता मिलती हैं और ,सफलता के मार्ग में आने वाली समस्त बाधाएं दूर होती हैं।

नवरात्र मैं नौ दिन तक रोज सुबह जल्दी "दुर्गा सप्तशती" का पाठ करने से भी हर कार्य मैं सफलता मिलती हैं।

मनोकामना की पूर्ति के लिए:-

माता के समक्ष 9 मिट्टी के अखंड दीपक जलाएं और हाथ में जल लेकर मन में अपनी इच्छा मां के सामने रखें, इसके बाद जल को जमीन पर छोड़ दें, आप इन अखंड दीपक को 9 दिन, 7 दिन या 5 दिनों या 2 दिनों के लिए जला सकते हैं। लेकिन इस बीच दीपक बुझने नहीं चाहिए। इससे आपकी कोई भी कामना पूरी हो सकती है।

अटका काम बनाने के लिए:-

यदि कोई काम लंबे समय से अटका हुआ है तो उसकी पूर्ति के लिए माता के लिए लाल चुनरी में 5 तरह के मेवे लेकर जाएं और उन्हें अर्पित करें. माता से अपनी इच्छा पूर्ति की बात कहें. फिर उस प्रसाद को ग्रहण करें।

कष्टों से मुक्ति के लिए:-

नवरात्रि के दिनों में पान के पत्ते में लौंग और बताशा रखकर हनुमान बाबा को अर्पित करें। उनके समक्ष हनुमान चालीसा का पाठ करें। इससे आपके बड़े से बड़े कष्ट भी दूर हो जाएंगे।

उपरोक्त सभी उपाय सभी धार्मिक मान्यताओं के आधार पर है।

किसी भी प्रकार की समस्या समाधान के लिए आचार्य पं. श्रीकान्त पटैरिया (ज्योतिष विशेषज्ञ) जी से सीधे संपर्क करें = 9131366453

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it