Begin typing your search...

मध्यप्रदेश निकाय चुनाव से पहले बीजेपी को बड़ा झटका,पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के बेटे ने सिद्धार्थ ने छोड़ी पार्टी

पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के बेटे ने सिद्धार्थ ने छोड़ी पार्टी

मध्यप्रदेश निकाय चुनाव से पहले बीजेपी को बड़ा झटका,पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के बेटे ने सिद्धार्थ ने छोड़ी पार्टी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

siddarth malaiya latest update news: एमपी में बीजेपी निकाय चुनाव की तैयारियों में जुटी है। इसके साथ ही जोड़तोड़ की राजनीति भी चल रही है। कुछ दिन पहले ही कांग्रेस के कई लोगों ने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की थी। इस बीच अब बीजेपी को भी बड़ा झटका लगा है। पार्टी के कद्दावर नेता और पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के बेटे सिद्धार्थ मलैया (siddarth malaiya latest update news) ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। सिद्धार्थ मलैया भीतरघात के आरोप में पार्टी से निलंबित चल रहे थे।

दरअसल, सिद्धार्थ मलैया दमोह विधानसभा उपचुनाव में टिकट चाहते थे। पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया। इसके बाद मलैया परिवार पर भीतरघात का आरोप लगा था। बीजेपी के उम्मीदवार वहां से उपचुनाव में हार गए थे। इसके बाद उन्होंने खुलकर आरोप लगाया था कि मलैया परिवार ने मदद नहीं की। पार्टी ने कार्रवाई करते हुए सिद्धार्थ मलैया को निलंबित कर दिया था। सिद्धार्थ 13 महीने से निलंबित चल रहे थे। निकाय चुनाव से पहले उन्होंने पार्टी से इस्तीफा देकर सभी को चौका दिया है।

सिद्धार्थ मलैया ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मैंने अपना इस्तीफा बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष को भेज दिया है। मैं नगर पालिका चुनाव में अपने समर्थकों निर्दलीय लड़ाऊंगा। सिद्दार्थ मलैया के साथ बीजेपी के कई पूर्व पदाधिकारी भी नजर आए हैं।

वहीं, बेटे के इस्तीफे पर जयंत मलैया ने कहा है कि यह सिद्धार्थ का स्वयं का फैसला है। इसमें मैं क्या कह सकता हूं। वह 13 महीने से पार्टी से निलंबित चल रहा है। उसने सोच-समझकर ही कोई निर्णय लिया होगा। गौरतलब है कि सिद्धार्थ मलैया को दमोह विधानसभा उपचुनाव में पार्टी उम्मीदवार राहुल सिंह की हार के बाद निलंबित कर दिया गया था। साथ ही जयंत मलैया को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था। मलैया वहां लगातार चुनाव जीतते रहे हैं। 2018 के विधानसभा चुनाव में उनकी दमोह सीट से हार हुई, इसके बाद से वह पार्टी में हाशिए पर चल रहे हैं।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it