Top
Begin typing your search...

तो क्या मध्यप्रदेश में फिर टूटेगी एक बार कांग्रेस?

कांग्रेस का अगला प्रदेश अध्यक्ष जयवर्धन सिंह को बनाया जा सकता है.

तो क्या मध्यप्रदेश में फिर टूटेगी एक बार कांग्रेस?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मध्यप्रदेश मे राजनैतिक उथल पुथल एक बार फिर शुरू हो गई है. जहाँ बीजेपी को लेकर चल रही सरगर्मी अब कांग्रेस खेमें में देखने को मिल रही. अब कांग्रेस में दो धड़े आमने सामने हुए है.

पूर्व सीएम कमलनाथ आज अचानक दिल्ली से भोपाल पहुंचे है. कमलनाथ के 2 पदों पर नेता प्रतिपक्ष और प्रदेश अध्यक्ष रहने से समीकरण बिगड़ रहे है.

अब ऐसे में पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने अजय सिंह को आगे करके लॉबिंग करना शुरू कर दिया है. दिग्विजय सिंह विंध्य प्रकरण को हवा दे रहे हैं. कल देर रात 20 विधायक केरवा कोठी में इकट्ठे हुए है.

प्रदेश में बनी बनाई कांग्रेस सरकार के गिर जाने से नाराज और युवा विधायकों को तरजीह ने देने से विधायकों में नाराजगी है. जयवर्धन सिंह के प्रदेश अध्यक्ष और सचिन यादव के नेता प्रतिपक्ष बनने के आसार बनते दिख रहे है.

कांग्रेस के ज्यादातर विधायकों का मानना कमलनाथ के नेतृत्व में खंडवा लोकसभा और रिक्त हुए विधानसभा उपचुनाव नहीं लड़ना चाहते है. सोनिया गांधी ने प्रदेश के बड़े नेता दिग्विजय सिंह , अरुण यादव को दिल्ली तलब किया. कमलनाथ दिल्ली से भोपाल वापस लौटे है.

सोनिया गांधी से मध्य प्रदेश को लेकर विस्तार से चर्चा हुई है. कमलनाथ प्रदेश अध्यक्ष के पद से इस्तीफा देंगे और नेता प्रतिपक्ष बने रहेंगे. कांग्रेस का अगला प्रदेश अध्यक्ष जयवर्धन सिंह को बनाया जा सकता है.

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it