Begin typing your search...

लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, 25 हजार रिश्वत लेते हुए थाना प्रभारी गिरफ्तार

एक दिन पहले ही डीजीपी ने की थी तारीफ़

लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, 25 हजार रिश्वत लेते हुए थाना प्रभारी गिरफ्तार
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

एमपी गजब है. मध्य प्रदेश में लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई देखने को मिली है. 25 हजार रिश्वत लेते हुए थाना प्रभारी को गिरफ्तार किया है. सीहोर में श्यामपुर थाना प्रभारी अर्जुन जायसवाल और एक होम गार्ड सैनिक को लोकायुक्त पुलिस ने 25 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. लोकायुक्त ने यह कार्रवाई एक फरयादी की शिकायत पर की है.

दरअसल, फरयादी भागीरथ जाटव की बोलेरो गाड़ी चोरी हो गई थी जिसकी रिपोर्ट दर्ज करवाने भगीरथ थाने गया वहां थाना प्रभारी अर्जुन जायसवाल ने रिपोर्ट दर्ज करने के एवज में फरियादी से 25 हजार रुपए की मांग की फरियादी ने अगले दिन लोकायुक्त पुलिस भोपाल को मामले की जानकारी दी।

इस पर लोकायुक्त पुलिस ने योजनाबद्ध तरीके से जाल बिछाकर तय समय पर फरियादी को रुपयों के साथ थाने भेजा। जहां थाना प्रभारी अर्जुन जायसवाल और एक होम गार्ड सैनिक ने फरियादी से 25 हजार रुपए लिए। रिश्वत की रकम थाना प्रभारी के हाथ में आते ही पहले से इंतजार कर रही लोकायुक्त पुलिस थाने पहुंची और थाना प्रभारी व होम गार्ड सैनिक अजय मेवाडा को रंगे हाथ पकड़ लिया।

एक दिन पहले ही डीजीपी ने की थी तारीफ़

शुक्रवार देर रात शिकायतकर्ता जाटव थाने पहुंचा तो एसआई जायसवाल ने कहा कि बैरक में मेवाड़ा है, उसे ही देना पैसे। जाटव बैरक में मेवाड़ा को पैसे देकर चला गया। थोड़ी देर बाद एसआई और मेवाड़ा मिले और एसआई ने पैसे रख लिए। इसी दौरान लोकायुक्त ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। मध्य प्रदेश के डीजीपी सुधीर सक्सेना ने शुक्रवार सुबह श्यामपुर थाने का निरीक्षण किया था। यहां उन्होंने एसआई जायसवाल के काम की तारीफ की थी।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it