Begin typing your search...

जादू टोने के शक में युवक की हत्या, आत्महत्या का रूम देने के लिए फांसी से लटकाया शव

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के जबलपुर (Jabalpur) स्थित ग्राम उचेहरा कुण्डम में जादू टोना के शक पर एक युवक की बेरहमी से पीट पीट कर हत्या कर दी गई है...

जादू टोने के शक में युवक की हत्या, आत्महत्या का रूम देने के लिए फांसी से लटकाया शव
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के जबलपुर (Jabalpur) स्थित ग्राम उचेहरा कुण्डम में जादू टोना के शक पर एक युवक की बेरहमी से पीट पीट कर हत्या कर दी गई है। मृतक का नाम सुनील बरकड़े बताया गया है। बता दें कि जादू टोना के शक में सुनील बरकड़े की लाठियों से पीट- पीट कर हत्या कर दी गई है। हत्या के बाद लाश को फांसी के फंदे पर एक पेड़ से लटका दिया गया ताकि लोग इसे आत्महत्या समझे। आज सुबह जब लोगों ने सुनील की लाश को पेड़ पर लटकते देखा तो स्तब्ध रह गए, खबर मिलते ही पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए, देखा तो मृतक के शरीर पर गंभीर चोट के निशान मिले। बता दें कि यह घटना बीते सोमवार 11 अप्रैल की है।

बता दें कि इस मामले में पुलिस का कहना है कि प्रथम जांच में ऐसा प्रतीत हो रहा है कि हत्या के बाद लाश को फांसी के फंदे पर लटकाया गया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। रिपोर्ट में जो भी तथ्य सामने आएंगे उस आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार ग्राम उचेहरा कुण्डम निवासी सुनील बरकड़े बीती रात दस बजे के लगभग घर से कहकर निकला कि अभी लौटकर आते है, रास्ते में अज्ञात तत्वों ने सुनील की लाठियों से पीट-पीटकर हत्या कर दी, हत्या के बाद लाश को गांव में एक पेड़े पर फंदा डालकर फांसी पर लटका दिया गया, ताकि लोग यही समझे कि सुनील बरकड़े ने आत्महत्या की है।

वहीं देर रात तक सुनील के घर न लौटने से परिजन चिंता में आ गए थे। जिन्होंने अपने स्तर पर सुनील की तलाश की लेकिन कोई जानकारी नहीं मिली। सोमवार सुबह कुछ लोगों ने सुनील की लाश पेड़ पर लटकते देखे तो हैरान रह गए। यह खबर पुरे गांव में आग की तरह फैल गई। देखते ही देखते घटना स्थल पर कई लोग पहुंच गए और भीड़ का जमावड़ा लग गया। सुनील के रिश्तेदार भी मौके पर पहुंचे उन्होंने सुनील को देखा तो फुट- फुट कर रोने लगे।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को उतरवाकर देखा कि शरीर पर लाठियों की चोट के निशान थे। वहीं पर खून से सनी लाठी व पत्थर भी पड़ा मिला। पुलिस को पूछताछ में यह भी जानकारी मिली है कि सुनील बरकड़े गांव में झाडफ़ूंक का काम भी करता था, संभवत: किसी ने जादू टोना के संदेह पर सुनील की हत्या की गई है।

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए शासकीय अस्पताल पहुंचाकर मर्ग कायम कर लिया है, पुलिस का कहना है कि पीएम रिपोर्ट में जो भी तथ्य सामने आएंगे उस आधार पर आगे की कार्यवाही की जाएगी। इस घटना की सूचना तत्काल कुण्डम थाना पुलिस को दी गई लेकिन हमेशा की तरह कुण्डम थानाप्रभारी प्रतापसिंह मरकाम मौके पर पहुंचे, जिससे लाश पेड़ पर ही लटकती रही।

बता दें कि पुलिस के काफी देर तक न पहुंचने से ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त रहा। ग्रामीणों का कहना था कि क्षेत्र में बढ़ती अपराधिक घटनाओं का कारण है कुण्डम पुलिस की कार्यप्रणाली है, जो ग्रामीणों की शिकायत किए जाने के बाद भी कार्यवाही नहीं करती है, जिसका एक कारण यह भी है कि ग्रामीण अपनी शिकायत वरिष्ठ अधिकारियों तक नहीं पहुंचा पाते है, जिसके चलते कुण्डम थाना में अराजकता का माहौल है। वहीं थानाप्रभारी को लेकर ग्रामीणों का कहना है कि थानाप्रभारी कभी मोबाइल फोन नहीं उठाते है, जबकि उन्हे शासकीय सिम मिली है, यह इसलिए दी गई है कि ताकि लोग अपनी परेशानी बता सके।

Sakshi
Next Story
Share it