Begin typing your search...

40 हजार करोड़ रुपये बचाने के लिए देवेंद्र फडणवीस ने ली थी शपथ, बीजेपी नेता अनंत हेगड़े का बड़ा बयान

अनंत हेगड़े ने दावा किया है कि महाराष्‍ट्र में 80 घंटे के लिए जो कुछ भी हुआ, वह एक नाटक था.

40 हजार करोड़ रुपये बचाने के लिए देवेंद्र फडणवीस ने ली थी शपथ, बीजेपी नेता अनंत हेगड़े का बड़ा बयान
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

महाराष्‍ट्र में उद्धव ठाकरे के नेतृत्‍व में महाविकास अघाड़ी शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस, की सरकार बन जाने के बाद बीजेपी के युवा नेता अनंत हेगड़े ने बड़ा बयान दिया है. हेगड़े ने दावा किया है कि महाराष्‍ट्र में 80 घंटे के लिए जो कुछ भी हुआ, वह एक नाटक था. देवेंद्र फडणवीस 80 घंटे के लिए मुख्‍यमंत्री इसलिए बने, क्‍योंकि 40 हजार करोड़ रुपये बचाने थे. उद्धव ठाकरे के नेतृत्‍व वाली शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस की सरकार आ जाती तो इन पैसों का दुरुपयोग होता. उसी को बचाने के लिए देवेंद्र फडणवीस 80 घंटों के लिए मुख्‍यमंत्री बने.

बीजेपी नेता अनंत हेगड़े बोले, 'आप सभी जानते हैं कि महाराष्ट्र में देवेंद्र फडणवीस 80 घंटे के लिए सीएम बने थे. उन्‍होंने बाद में इस्तीफा दे दिया था. उन्होंने यह नाटक क्यों किया? हमें भी पता था कि हमारे पास बहुमत नहीं था और फिर भी वह सीएम बने. यह वह सवाल है जो हर कोई पूछता है. हम आपको बता दें कि देवेंद्र फडणवीस ने 40 हजार करोड़ रुपये बचाने के लिए मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ली थी. अगर शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस सत्ता में साथ आते तो 40 हजार करोड़ का दुरुपयोग करते.'

हेगड़े ने कहा, यह सब केंद्रीय सरकार का पैसा है और उद्धव ठाकरे की सरकार विकास के लिए इसका इस्तेमाल नहीं करती. यह सब बहुत पहले की योजना थी. इसलिए तय किया गया कि इस तरह का एक नाटक होना चाहिए. इसलिए फड़नवीस ने सीएम पद की शपथ ली. 15 घंटे में ही उन्‍होंने 40 हज़ार करोड़ रुपये केंद्र सरकार को वापस कर दिए. फडणवीस ने सारे पैसे बचा लिए.

Special Coverage News
Next Story
Share it