Begin typing your search...

राज ठाकरे से डरी हुई है मुंबई पुलिस? सांगली कोर्ट के आदेश के बाद भी नहीं हुई गिरफ्तारी

सांगली मजिस्ट्रेट कोर्ट द्वारा 27 दिन पहले एक गैर जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी होने के बाद भी नवनिर्माण सेना सुप्रीमो राज ठाकरे को गिरफ्तार करने का हिम्मत नहीं जुटा पाई है।

राज ठाकरे ने महाराष्ट्र सरकार को दी धमकी, मस्जिदों से नहीं हटाए लाउडस्पीकर तो हम तेज आवाज में हनुमान चालीसा बजवाएंगे...
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

महाराष्ट्र की मुंबई पुलिस राज ठाकरे से डरी हुई है। इसी का नतीजा है कि सांगली मजिस्ट्रेट कोर्ट द्वारा 27 दिन पहले एक गैर जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी होने के बाद भी नवनिर्माण सेना सुप्रीमो राज ठाकरे को गिरफ्तार करने का हिम्मत नहीं जुटा पाई है।

सांगली मजिस्ट्रेट कोर्ट ने अपने आदेश में मुंबई के पुलिस कमिश्नर को उन्हें गिरफ्तार कर पेश करने का निर्देश दिया था। इस आदेश के बाद भी मुंबई पुलिस मनसे प्रमुख के खिलाफ जारी आदेश पर अमल नहीं करा सकी है।

सांगली की सिराला मजिस्ट्रेट कोर्ट ( Sangli Magistrate Court) ने 6 अप्रैल को राज ठाकरे के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था। यह वारंट उनके खिलाफ 2008, यू/एस भादंवि 143, धारा 109, 117 और बॉम्बे पुलिस एक्ट की धारा 135 व अन्य के तहत दर्ज केस को लेकर जारी किया है।

दूसरी तरफ महाराष्ट्र में लाउडस्पीकर को लेकर चल रही सियासी उठापटक के बीच महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) के अध्यक्ष राज ठाकरे ने ट्वीट कर कल 3 मई को अक्षय तृतीया के दिन महाआरती रद्द करने का ऐलान किया है। उन्होंने 19 अप्रैल को पार्टी की तरफ से 3 मई को अक्षय तृतीया पर राज्यभर में कार्यकर्ताओं से स्थानीय मंदिरों में लाउडस्पीकर पर महाआरती करने का आह्वान किया था। इसी दिन ईद भी है, जिसके चलते ठाकरे ने अपना फैसला वापस लिया और महाआरती रद्द कर दी है।

बता दें कि मनसे प्रमुख राज ठाकरे पिछले कुछ दिनों से मस्जिदों में बजने वाले लाउडस्पीकर को लेकर लगातार बयान जारी कर रहे हैं। हाल ही में उन्होंने कहा था कि लाउडस्पीकर का विषय धार्मिक नहीं, सामाजिक है और उसी दृष्टि से इसे देखना चाहिए। इसलिए हमने तय किया कि अगर आप 5 बार लाउडस्पीकर का इस्तेमाल करेंगे तो हम भी दिन में 5 बार मस्जिद के सामने हनुमान चालीसा बजाएंगे। मुझे लगता है कि हमें खुद भी कुछ चीजों को समझना चाहिए। मुस्लिम समाज को भी समझना चाहिए कि इस देश से उनका धर्म बड़ा नहीं हो सकता है। लोगों को परेशानी हो रही है। यह बात उन्हें समझने की ज़रूरत है।

Sakshi
Next Story
Share it