महाराष्ट्र

महाराष्ट्र की सियासी बाजी पलटेगी NCP!, नवाब मलिक बोले- शिवसेना से सीएम बनना बिलकुल मुमकिन

Special Coverage News
3 Nov 2019 7:28 AM GMT
महाराष्ट्र की सियासी बाजी पलटेगी NCP!, नवाब मलिक बोले- शिवसेना से सीएम बनना बिलकुल मुमकिन
x
महाराष्ट्र में सरकार बनने को लेकर एनसीपी नेता नवाब मलिक ने बड़ा बयान दिया है?

महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री की कुर्सी को लेकर जारी खींचतान के बीच एनसीपी की ओर से बड़ा बयान आया है। महाराष्ट्र में सरकार बनने को लेकर एनसीपी नेता नवाब मलिक ने बड़ा बयान दिया है। नवाब मलिक ने कहा है कि शिवसेना से सीएम बनना बिलकुल मुमकिन है, लेकिन इसके लिए शिवसेना को अपना पक्ष साफ करना होगा। आपको बता दें कि मुंबई में एनसीपी मुख्यालय में शरद पवार की मौजूदगी में एनसीपी नेताओं की बैठक हो रही है।

ये बैठक सोमवार को पार्टी प्रमुख शरद पवार और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के बीच होनी वाली मुलाकात से पहले हो रही है। इस बैठक से पहले पार्टी प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि अगर शिवसेना कहती है कि उनका मुख्यमंत्री बनेगा तो यह बिल्कुल मुमकिन है। शिवसेना अपनी भूमिका एकदम स्पष्ठ करे। हम भी अपनी भूमिका बता देंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि फिलहाल जनता ने हमें विपक्ष में बैठने के लिए चुना है और हम उसके लिए तैयार हैं।



आपको बता दें कि चुनाव रिजल्ट आने के 10 दिन बाद भी महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर सस्पेंस जारी है। 24 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव के नतीजों को आए हुए 10 दिन हो गए हैं, लेकिन राज्य में किसकी सरकार बनेगी यह अब तक साफ नहीं हो पाया है। एक ओर जहां शिवसेना 50-50 फॉर्मूले पर अड़ी हुई है तो वहीं बीजेपी इसपर राजी होने को तैयार नहीं है। मुख्यमंत्री को लेकर शिवसेना और बीजेपी में 10 दिन से जारी खींचतान के बीच एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन को भी महाराष्ट्र में उम्मीदें दिखने लगी हैं। इन सबके बीच शिवसेना के वरिष्ठ नेता और प्रवक्ता संजय राउत ने एक फिर से बीजेपी पर निशाना साधा है। संजय राउत ने कहा है बीजेपी शपथ ग्रहण के लिए जगह बुक कर रही है, लेकिन ये तभी मुमकिन है जब पहले वो सरकार बना लें।

गौरतलब है कि 24 अक्टूबर को आए विधानसभा चुनावों के नतीजों के बाद से ही सत्ता में साझेदारी को लेकर शिवसेना और बीजेपी में उठापटक चल रही है। शिवसेना 50-50 फॉर्मूले पर अड़ी हुई है और मुख्यमंत्री पद की मांग कर रही है। लेकिन बीजेपी इसके लिए तैयार नहीं है। गौरतलब है कि प्रदेश में मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल आठ नवंबर को पूरा हो रहा है।

Tags
Special Coverage News

Special Coverage News

    Next Story