Top
Begin typing your search...

महाराष्ट्र में 5 स्तरीय अनलॉक योजना की घोषणा, 36 में से सिर्फ 18 जिलों में ही दी जाएगी छूट, ये है प्लान

महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में अनलॉक प्रक्रिया शुरू करने के लिए 5 स्तरीय योजना तैयार की है.

महाराष्ट्र में 5 स्तरीय अनलॉक योजना की घोषणा, 36 में से सिर्फ 18 जिलों में ही दी जाएगी छूट, ये है प्लान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में अनलॉक प्रक्रिया शुरू करने के लिए 5 स्तरीय योजना तैयार की है. महाराष्ट्र के मंत्री विजय वेडट्टीवार ने कहा कि हमने पॉजिटिविट रेट और जिलों में ऑक्सीजन बेडों के स्थिति के आधार पर राज्य के लिए 5 स्तरीय अनलॉक योजना तैयार की है.

सबसे कम पॉजिटिविटी रेट वाले जिलों में कोई प्रतिबंध नहीं होंगे. फिलहाल राज्य के 36 जिलो में 18 जिले ऐसे हैं, जहां पॉजिटिविटी रेट काफी कम हुआ है और इन जिलो में लोगों को ज्यादा रियायत दी जाएगी. इन 18 जिलो में ठाणे, वर्धा, औरनागबाद, भंडारा, धुले, गोंदिया, नागपुर, लातूर, गढ़चिरौली, वाशिम, यवतमाल, बुलढाणा, चंद्रपुर, नासिक, परभणी, जलगांव और जालना जिला शामिल है.

महाराष्ट्र के मंत्री विजय वेडट्टीवार ने बताया कि राज्य में अब पांच स्तरीय अनलॉक प्रक्रिया लागू होगी. बीएमसी हर कोविड जंबो सेंटर में तीसरी लहर से निपटने के लिए पीडियाट्रिक वार्ड बनाएगी. इसके अलावा हर सेंटर में माता-पिता के लिए विशेष व्यवस्था की जाएगी. नवजात शिशुओ और स्तनपान कराने वाली माताओं के कोरोना इलाज के लिए तीन मैटरनिटी होम को नामित किया गया है.

लेवल 1 में लॉकडाउन खत्म

लेवल 1 में उन जिलों को रखा गया है जहां पॉजिटिविट रेट 5 प्रतिशत से कम है और 25 प्रतिशत से कम ऑक्सीजन बेड भरे हुए हैं. यहां कोई लॉकडाउन नहीं होगा. कल यानी शुक्रवार से यहां अनलॉक शुरू हो जाएगा. लेवल 1 में 18 जिले शामिल हैं. मंत्री ने कहा कि मुबंई अब भी लेवल 2 में है. अगर मुंबई लेवल 1 में आता है तो यहां लोकल ट्रेन सेवा शुरू कर दी जाएगी. वहीं लेवल 2 में आने वाले जिलों में धारा 144 लागू रहेगी. यहां सिर्फ 50 प्रतिशत जिम, सैलून, ब्यूटी पार्लर को अनुमति दी जाएगी. वहीं इन जिलों में शादी कार्यक्रम में मेहमानों की संख्या पर पाबंदिया रहेंगी.

यहां होगी ई पास की जरूरत

मंत्री विजय वेडट्टीवार ने बताया कि लेवल 5 में अभी भी ई पास लागू रहेगा. राज्य में आवाजाही के लिए निगेटिव आरटी-पीसीआर रिपोर्ट की जरूरत नहीं होगी. अंतराराज्यीय आवागमन के लिए अलग योजना बनाई गई है. इसे लिए बाद में अलग से घोषणा की जाएगी. इसी के साथ महाराष्ट्र बोर्ड की 10वीं औऱ 12वीं की परीक्षाएं भी रद्द कर दी गई हैं.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it