Begin typing your search...

Floor Test Hearing : महाराष्ट्र में सियासी संकट ? कल फ्लोर टेस्ट होगा या नहीं? सुप्रीम कोर्ट 9 बजे सुनाएगा फैसला

कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है और आज बुधवार रात 9 बजे निर्णय सुनाने की तैयारी है.

Floor Test Hearing : महाराष्ट्र में सियासी संकट ? कल फ्लोर टेस्ट होगा या नहीं? सुप्रीम कोर्ट 9 बजे सुनाएगा फैसला
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Floor Test Hearing : महाराष्ट्र में जारी सियासी संकट के बीच फ्लोर टेस्ट के खिलाफ महा विकास अघाडी सरकार की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई है जिस पर सुनवाई पूरी हो गई है. तमाम पक्षों की दलीलों को सुनने के बाद कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है और आज बुधवार रात 9 बजे निर्णय सुनाने की तैयारी है.

30 जून को फ्लोर टेस्ट (Floor Test Hearing) कराने के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के आदेश को चुनौती देने वाली याचिका पर बुधवार को सुनवाई शुरू हुई. शिवसेना की ओर से अभिषेक मनु सिंघवी ने बहस शुरू की. सिंघवी ने बहस शुरू की. सिंघवी ने कहा, नेता विपक्ष रात को दस बजे राज्यपाल से मिलने गए और फिर कल 11 बजे के लिए फ्लोर टेस्ट का आदेश दिया गया.

हालांकि शिंदे गुट की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता नीरज किशन कौल ने कहा, खरीद-फरोख्त पर अंकुश के लिए फ्लोर टेस्ट जल्द से जल्द कराया जाना ही बेहतर है. वहीं गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी की ओर से एसजी तुषार मेहता ने कहा, पहले भी 24 घंटे के भीतर बहुमत परीक्षण कराने के आदेश दिए गए हैं. इसकी मंशा पर सवाल नहीं उठाया जा सकता है. सभी पक्षों की दलीलें पूरी होने के बाद सुप्रीम कोर्ट 9 बजे फैसला सुनाएगा. इससे तय होगा कि महाराष्ट्र में कल फ्लोर टेस्ट होगा या नहीं?

सिंघवी ने कहा, कांग्रेस के दो विधायक देश से बाहर हैं और दो NCP के विधायक कोरोना से संक्रमित हैं. इस मामले में राज्यपाल (Governor) ने बहुत तीव्रता से फैसला लिया है. 24 घंटे में बहुमत परीक्षण के लिए कहा गया है. गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी को पता था कि मामला सुप्रीम कोर्ट के पास है. मान लीजिए 11 जुलाई को कोर्ट विधायकों की याचिका खारिज कर देता है और 2 दिनों में स्पीकर अयोग्यता का फैसला देता है. ऐसे में क्या वो कल मतदान कर सकते है? यह मामला सीधे तौर पर अयोग्यता से जुड़ा है. सिंघवी ने कहा, अगर कल महाराष्ट्र विधानसभा में शक्ति परीक्षण नहीं होता है तो कोई आसमान नहीं टूट पड़ेगा. इस बीच गुरुवार को शक्ति परीक्षण के पहले बागी विधायक गुवाहाटी (Guahati) से गोवा पहुंच चुके हैं.

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it