Begin typing your search...

रामदास अठावले का बड़ा बयान, असली शिवसेना एकनाथ शिंदे की, महाराष्ट्र में BJP की सरकार बनेगी फड़णवीस CM बनेंगे

शिवसेना नेता संजय राउत ने बागियों को एक बार फिर बातचीत करने का संदेश दिया है.

रामदास अठावले का बड़ा बयान, असली शिवसेना एकनाथ शिंदे की, महाराष्ट्र में BJP की सरकार बनेगी फड़णवीस CM बनेंगे
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

महाराष्ट्र में जारी सियासी संकट गहराता जा रहा है। उद्धव ठाकरे की सरकार पर संकट के बीच बागी खेमा लगातार मजबूत होता जा रहा है। शिंदे कैंप का दावा है कि एक और विधायक मंगेश कुलडलकर गुवाहाटी पहुंच रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक शिवसेना के 6 और विधायक गुवाहाटी पहुंच गए हैं। इस बीच उद्धव ठाकरे सीएम आवास छोड़कर मातोश्री पहुंच गए हैं जहां बड़ी संख्या में शिवसैनिकों ने उनका स्वागत किया।

महाराष्ट्र में BJP की सरकार बनेगी, फड़णवीस CM बनेंगे

रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के चीफ रामदास अठावले ने कहा है कि 2019 के चुनाव में BJP, RPI और शिवसेना ने एक साथ चुनाव लड़ा था. लेकिन 2019 में BJP को शिवसेना ने धोखा दे दिया. असली शिवसेना अब एकनाथ शिंदे की है, क्योंकि उनके साथ ज्यादा विधायक हैं. उन्होंने आगे कहा कि शिवसेना ने भाजपा को धोखा दिया और एकनाथ शिंदे ने उन्हें धोखा दिया. उद्धव ठाकरे और संजय राउत ही आज के हालात के लिए जिम्मेदार हैं. जल्द फडनविस मुख्यमंत्री को बनना चाहिए और फडणवीस और शिंदे दोनों को गठबंधन करना चाहिए.

शिंदे कैंप ने उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर जवाब दिया है। शिंदे गुट का कहना है कि उनके लिए 'मातोश्री' का दरवाजा बंद किया गया। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे एनसीपी और कांग्रेस के नेताओं से मिलते थे लेकिन उनसे दूरी बनाए रखी। एनसीपी और कांग्रेस के नेताओं के फाइलों को मंजूरी मिली जबकि विकास कार्यों के लिए उन्हें अनुदान नहीं मिला। यही नहीं, वे अयोध्या जाना चाहते थे लेकिन उन्हें विमान से उतार लिया गया।

शिवसेना नेता और महाराष्ट्र से राज्यसभा सांसद संजय राउत ने बागियों को एक बार फिर बातचीत करने का संदेश दिया है. उन्होंने कहा कि विचार-विमर्श के जरिए मार्ग प्रशस्त किया जा सकता है. चर्चा की जा सकती है. घर के दरवाजे खुले हैं. आइए गुलामी के बजाय स्वाभिमान से फैसला करें.

Arun Mishra

About author
Assistant Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it