Top
Begin typing your search...

बीजेपी को बड़ा झटका, 20 से अधिक पदाधिकारियों ने दिया इस्तीफा

बीजेपी को बड़ा झटका, 20 से अधिक पदाधिकारियों ने दिया इस्तीफा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

महाराष्ट्र में जारी सियासी उठापटक के बीच भाजपा के लिए एक बुरी खबर सामने आई है। महाराष्ट्र भाजपा के 20 से अधिक पदाधिकारियों ने इस्तीफा दे दिया है। बताया जा रहा है कि ये सभी केंद्रीय नेतृत्व के फैसले से नाराज थे।जानकारी के अनुसार, मोदी मंत्रिमंडल में प्रीतम मुंडे को जगह नहीं मिलने से भाजपा के 20 से अधिक स्थानीय पदाधिकारियों ने नाराज होकर पार्टी से इस्तीफा दे दिया। प्रीतम मुंडे महाराष्ट्र की बीड जिले से सांसद हैं। केंद्रीय मंत्रिपरिषद के विस्तार के बाद महाराष्ट्र के बीड जिले से सांसद प्रीतम मुंडे खडे को मंत्रिमंडल में जगह न मिलने से नाराज भारतीय जनता पार्टी के 20 से अधिक स्थानीय पदाधिकारियों ने इस्तीफा दे दिया है। एक स्थानीय नेता ने रविवार को यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि बीड जिला परिषद और पंचायत समिति के साथ अंबाजोगाई के भाजपा पार्षद, इस्तीफा सौंपने के लिए मुंबई निकल पड़े हैं। नेता ने कहा कि पिछले दो दिन में जिन्होंने इस्तीफा दिया है, उनमें बीड जिला परिषद का एक सदस्य और पंचायत समिति का एक सदस्य शामिल है। इसके अलावा भाजपा जिला महासचिव, युवा इकाई के अध्यक्ष, जिला उपाध्यक्ष, तहसील अध्यक्ष और भाजपा युवा इकाई के जिला उपाध्यक्ष ने भाजपा जिला अध्यक्ष राजेंद्र मास्के को अपना इस्तीफा सौंप दिया है।

भाजपा बीड जिला महासचिव सरजेराव टांडले ने कहा कि प्रीतम मुंडे को कैबिनेट में जगह मिलने वाली थी, लेकिन अंतिम समय में उनका नाम हटा दिया गया। भाजपा के हजारों कार्यकर्ता प्रीतम मुंडे को मंत्रिमंडल में शामिल होते देखना चाहते थे। जब उनका नाम अंतिम सूची में नहीं आया तो उनका सपना टूट गया। मैं इसके विरोध में पद से इस्तीफा दे रहा हूं।

बहन पंकजा मुंडे संभालेंगी बिगड़ी बात

हालांकि, भाजपा की राष्ट्रीय महासचिव पंकजा मुंडे ने अपनी बहन और सांसद प्रीतम मुंडे को मंत्रिपरिषद में शामिल न किए जाने से नाराज होने की खबरों का खंडन किया है। इससे पहले पंकजा ने यह भी कहा था कि उन्हें विश्वास है कि प्रीतम को मंत्रिमंडल में स्थान दिया जाएगा। पंकजा ने स्पष्ट किया था कि पार्टी द्वारा लिया गया कोई भी निर्णय उन्हें और उनकी बहन को स्वीकार्य होगा क्योंकि वे पार्टी की समर्पित कार्यकर्ता हैं। इस बीच, सूत्रों से पता चला है कि पंकजा मंगलवार को पार्टी कार्यकर्ताओं से मिलेंगी और उन्हें इस्तीफा वापस लेने के लिए मनाएंगी।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it