Top
Begin typing your search...

महाराष्ट्र के सीएम ने राज्यपाल को नहीं दिया सरकार विमान

इस मामले में जब महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम अजीत पवार से बात की गई, तो उन्होंने कहा कि 'इस मामले की कोई जानकारी नहीं है. मैं अभी मंत्रालय जा रहा हूं. मुझे इस बारे में जब अन्य कुछ जानकारी मिलेगी, तब इस मामले में टिप्पणी कर सकूंगा.

महाराष्ट्र के सीएम ने राज्यपाल को नहीं दिया सरकार विमान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

महाराष्ट्र सरकार और राज्यपाल में अब तनातनी बढती नजर आ रही है जहाँ राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को सरकारी विमान के उपयोग की मंजूरी नहीं दी गई है. राज्यपाल अपने मूल राज्य में आई आपदा को देखने के लिए उत्तराखंड जाना चाहते थे. लेकिन राज्य की सरकार ने उन्हें सरकारी विमान से जाने की इजाजत नहीं दी है.

अब राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी मुंबई से देहरादून स्पाइसजेट के विमान से जाएंगे. महाराष्ट्र के राज्यपाल बीएस कोश्यारी गुरुवार को उत्तराखंड के मसूरी जाने की तैयारी कर रहे थे. वहां उन्हें लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी के एक समारोह में हिस्सा लेना था. जैसे ही वे विमान में सवार हुए, तो उन्हें सूचना मिली, कि उड़ान भरने की अनुमति नहीं है. इसके बाद राज्यपाल निजी विमान सेवा से गंतव्य की ओर रवाना हुये. इस मामले को लेकर महाराष्ट्र की सियासत गरमाने लगी है.

वहीं इस मामले में जब महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम अजीत पवार से बात की गई, तो उन्होंने कहा कि 'इस मामले की कोई जानकारी नहीं है. मैं अभी मंत्रालय जा रहा हूं. मुझे इस बारे में जब अन्य कुछ जानकारी मिलेगी, तब इस मामले में टिप्पणी कर सकूंगा.

मालूम हो कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और राज्यपाल बीएस कोश्यारी के बीच पिछले वर्ष से विवाद चल रहा है. दरअसल राज्यपाल ने अपने पत्र में सीएम उद्धव ठाकरे से राज्य के धार्मिक स्थलों को फिर से खोलने का अनुरोध किया था. पत्र का जवाब देते हुए सीएम ठाकरे ने कहा था कि 'मुझे अपने हिंदुत्व के बारे में आपसे प्रमाण पत्र की आवश्यकता नहीं है.

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it