Begin typing your search...

मुंबई: बार में छापा, 15 घंटे खोजने पर 3 फीट चौड़े सीक्रेट रूम से मिलीं 17 लड़कियां, हालत देख पुलिस हुई हैरान!

पुलिस ने किसी तरह इसे सीक्रेट गेट खोला तो अंदर से एक के बाद एक 17 लड़कियां निकाली गईं.

मुंबई: बार में छापा, 15 घंटे खोजने पर 3 फीट चौड़े सीक्रेट रूम से मिलीं 17 लड़कियां, हालत देख पुलिस हुई हैरान!
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मुंबई के अंधेरी से चौंका देने वाली घटना सामने आई है. यहां एक बार के सीक्रेट रूम में 17 बार गर्ल्स को बरामद किया गया. दरअसल, ये लड़कियां यहां बने मेकअप रूम के अंदर बने सीक्रेट रूम में छिपाई गईं थीं. पुलिस को इन्हें ढूंढने 15 घंटे लग गए. जहां लड़कियां छिपाई गईं थीं, वहां खाने-पीने से लेकर सारी सुविधाएं मौजूद थीं.

मुंबई पुलिस की समाज सेवा शाखा के अधिकारी को एनजीओ से शिकायत मिली थी कि बार में कोविड-19 प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया जा रहा है. बार में भारी भीड़ जमा होती है और ग्राहक प्रतिदिन लाखों रुपये खर्च करते हैं. बार गर्ल्स के चलते बार पूरी रात खुला रहता है और स्थानीय पुलिस को इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है.

शिकायत के आधार पर शनिवार देर रात पुलिस ने बार में छापेमारी की. घंटों तक तलाशी लेकिन सफलता नहीं मिली जब पुलिस ने जब छापेमारी की तो बार में एक भी बार गर्ल नहीं मिली. इसके बाद पुलिस ने बार के बाथरूम, स्टोरेज रूम, किचन और कई अन्य जगहों की तलाशी ली, लेकिन उन्हें बार गर्ल कहीं नहीं मिली. कई घंटों तक पुलिस बार के कर्मचारियों से पूछताछ करती रही लेकिन उन्होंने कहा कि यहां कोई बार गर्ल नहीं है.

सुबह होते ही समाज सेवा शाखा के डीसीपी मौके पर पहुंचे. रविवार सुबह एक बार फिर से बार की तलाश शुरू की गई. मेकअप रूम में पुलिस को संदिग्ध शीशा मिला. पुलिस ने हथौड़े से शीशा तोड़ना शुरू कर दिया. इसके पीछे एक दरवाजा था जिसे रिमोट से कंट्रोल किया जाता था.

पुलिस ने किसी तरह इसे सीक्रेट गेट खोला तो अंदर से एक के बाद एक 17 लड़कियां निकाली गईं. फिलहाल, पुलिस सीक्रेट रूम के रिमोट कंट्रोल का पता लगाने की कोशिश कर रही है. साथ ही घटना से जुड़े 20 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली है और बार को सील कर दिया है.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it