Top
Begin typing your search...

फ़ोन टैपिंग मामले पर अखिलेश यादव ने मोदी सरकार पर जमकर साधा निशाना

फ़ोन टैपिंग मामले पर अखिलेश यादव ने मोदी सरकार पर जमकर साधा निशाना

फ़ोन टैपिंग मामले पर अखिलेश यादव ने मोदी सरकार पर जमकर साधा निशाना
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने भी पेगासस फोन टैपिंग मामले में केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया है. उन्होंने ट्वीट कर केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा है.अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा, "फ़ोन की जासूसी करवाकर लोगों की व्यक्तिगत बातों को सुनना 'निजता के अधिकार' का घोर उल्लंघन है. अगर ये काम बीजेपी करवा रही है तो ये दंडनीय है और अगर बीजेपी सरकार ये कहती है कि उसे इसकी जानकारी नहीं है तो ये राष्ट्रीय सुरक्षा पर उसकी नाकामी है फ़ोन-जासूसी एक लोकतांत्रिक अपराध है".

संसद के मॉनसून सत्र के एक दिन पहले ही पेगासस जासूसी कांड का मुद्दा देश के सामने आया.वही अब फ़ोन हैकिंग का मामला देश में एक बड़ी विमर्श का मुद्दा बन गया है. वही समूचा विपक्ष फोन टैपिंग के मामले में मोदी सरकार को जबर्दस्त तरीके से घेर रहा है.संसद के मॉनसून सत्र के पहले ही दिन लोकसभा में पेगासस के मुद्दे पर जमकर हंगामा हुआ.वही विपक्ष ने सदन में पेगासस जासूसी कांड के मुद्दे पर केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला.संसद के मॉनसून सत्र में भी पेगासस जासूसी कांड का मुद्दा गरमाये रहने के आसार हैं.




Rajesh Kumar
Next Story
Share it