Top
Begin typing your search...

विपक्ष ने बताया लोकतंत्र पर हमला, अनुराग ठाकुर ने किया पलटवार बोले-... इसमें कोई दखल नहीं है

विपक्ष ने बताया लोकतंत्र पर हमला, अनुराग ठाकुर ने किया पलटवार बोले-... इसमें कोई दखल नहीं है
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मीडिया समूह 'दैनिक भास्कर' और टीवी न्यूज चैनल 'भारत समाचार' के दफ्तरों पर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की छापेमारी को लेकर मचे हंगामे और विपक्ष की घेरेबंदी के बीच सरकार ने इस मामले पर जवाब दिया है। सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने गुरुवार को कहा कि एजेंसियां अपना काम कर रही हैं और इसमें कोई दखल नहीं है।

मोदी सरकार में हाल ही कैबिनेट मंत्री बनाए गए अनुराग ठाकुर कांग्रेस के उन आरोपों को लेकर पूछे गए सवाल का जवाब दे रहे थे, जिनमें विपक्षी पार्टी की ओर से कहा जा रहा है कि लोकतंत्र की आवाज घोंटने के लिए छापेमारी की जा रही है। अनुराग ठाकुर ने कहा, ''एजेंसियां अपना काम कर रही हैं और इसमें कोई दखल नहीं है।'' उन्होंने यह भी कहा कि किसी को पहले पूरी जानकारी लेनी चाहिए और कई बार ऐसे मामले आते हैं चो सच से काफी दूर होते हैं।

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने गुरुवार को मीडिया समूह दैनिक भास्कर और उत्तर प्रदेश आधारित हिंदी न्यूज चैनल भारत समाचार के दफ्तरों पर कई शहरों में छापेमारी की। टैक्स चोरी के आरोपों को लेकर यह छापेमारी की गई है। हालांकि, विपक्ष ने इसे लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर प्रहार बताया है।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि दैनिक भास्कर के मामले में छापेमारी भोपाल, जयपुर, अहमदाबाद और कुछ अन्य स्थानों पर की जा रही है। उन्होंने बताया कि टीवी समाचार चैनल भारत समाचार समूह और उसके प्रवर्तकों एवं कर्मचारियों के लखनऊ स्थित परिसरों पर इसी तरह से छापेमारी की गई।

विभाग या उसके नीति निर्माण निकाय केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) से छापेमारी के संबंध में किसी तरह की आधिकारिक जानकारी नहीं मिली है। सूत्रों ने बताया कि भास्कर समूह के खिलाफ की गई कार्रवाई में समूह के प्रवर्तकों के मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में स्थित आवासीय स्थानों पर भी छापे मारे जाना शामिल है।

भारत समाचार टीवी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर कहा कि "उसके प्रधान संपादक ब्रजेश मिश्रा, प्रदेश प्रमुख वीरेंद्र सिंह और कुछ कर्मचारियों के घरों तथा चैनल के कार्यालय" में छापेमारी की जा रही है।

दोनों मीडिया संगठन देश में कोविड-19 प्रबंधन की आलोचना करते रहे थे और अप्रैल-मई में देश को बुरी तरह प्रभावित करने वाली वैश्विक महामारी की दूसरी लहर के दौरान इस विषय पर कई खबरें की थीं।



सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it