Top
Begin typing your search...

63 दिन बाद 24 घंटे में 1 लाख से कम कोरोना केस आए, 86,498 नए संक्रमित मिले, 2,115 मरीजों की मौत

कोरोना के 86,498 नए मामले दर्ज किए गए और 2,115 मरीजों की मौत हुई.

63 दिन बाद 24 घंटे में 1 लाख से कम कोरोना केस आए, 86,498 नए संक्रमित मिले, 2,115 मरीजों की मौत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : भारत में कोरोना मामलों में तेजी से कमी आई है. पिछले 24 घंटे में देश में 1 लाख से भी कम नए मामले सामने आए हैं, जो कि 5 अप्रैल 2021 के बाद, यानी 63 दिनों में पहली बार है. 05 अप्रैल को देश में 96557 मामले दर्ज हुए थे. वहीं रोजाना हो रही मौतों की संख्या में भी कमी हुई है.

देश में सोमवार को कोरोना के 86,498 नए मामले दर्ज किए गए और 2,115 मरीजों की मौत हुई. 66 दिनों के बाद एक दिन में सामने आए ये सबसे कम कोरोना मामले हैं. इससे पहले 01 अप्रैल 2021 को देश में 81 हजार नए केस दर्ज किए गए थे. जिसके बाद से कोरोना लगातार बढ़ता चला आ रहा है. हालांकि, अब कम हो रहे केस और बढ़ती वैक्सीनेशन से राहत मिल सकती है.

कोरोना संक्रमण के नए मामलों में कमी के साथ ही एक्टिव केस के आंकड़े में भी भारी कमी आई है. देश में इस वक्त कोरोना के एक्टिव मामले घटकर 13,03,702 पर पहुंच गए हैं. पिछले 24 घंटों में एक्टिव मामलों में 97,907 की कमी आई है. देश में अब तक 2,73,41,462 रिकवर होने वाले मरीजों की संख्या है. वहीं पिछले 24 घंटों के भीतर 1,82,282 मरीज रिकवर हुए हैं. 26वें दिन लगातार ऐसा है जब रिकवर होने वाले मामलों की संख्या नए कोरोना संक्रमण के मामलों से ज्यादा है. देश में रिकवरी रेट बढ़कर 94.29% पर पहुंच गया है, वहीं वीकली पॉजिटिविटी रेट भी घटकर 5.94% पर आ गया है.

15वें दिन लगातार पॉजिटिविटी रेट 10 फीसदी से कम

डेली पॉजिटिविटी रेट में भी कमी आई है और ये 4.62 फीसदी दर्ज किया गया है. यह लगातार 15वां दिन है कि 10 फीसदी से कम पॉजिटिविटी रेट दर्ज किया गया है. देश में पिछले 24 घंटों के भीतर 18,73,485 सैंपल्स को टेस्ट किया गया है, जिससे कुल टेस्टिंग की संख्या 36.8 करोड़ से ज्यादा हो गई है. इसके साथ ही देश भर में अब तक 23.61 करोड़ वैक्सीन डोज लगाई गई हैं.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it