Begin typing your search...

PM Modi In J&K : PM मोदी का वादा, 'जो जिंदगी आपके दादा-नाना ने गुजारी वैसे नहीं जीने दूंगा', पढ़ें- भाषण की 10 बड़ी बातें

पीएम ने 38,082 करोड़ रुपये के औघोगिक विकास प्रस्तावों की आधारशिला रखी.

PM Modi In J&K : PM मोदी का वादा, जो जिंदगी आपके दादा-नाना ने गुजारी वैसे नहीं जीने दूंगा, पढ़ें- भाषण की 10 बड़ी बातें
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

PM Modi In J&K Live: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज जम्मू कश्मीर दौरे पर हैं. वो जम्मू पहुंच गए हैं. प्रधानमंत्री मोदी ने सबसे पहले ग्रामसभा की बैठक में शिरकत की. पीएम ने 38,082 करोड़ रुपये के औघोगिक विकास प्रस्तावों की आधारशिला रखी. पीएम मोदी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के विकास को रफ्तार मिली है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रेसवे की आधारशिला रखी. सांबा में 108 जन औषधि केंद्रों के साथ पल्ली गांव में 500 किलोवाट सौर ऊर्जा संयंत्र का उद्घाटन किया. पीएम नरेंद्र मोदी ने 'अमृत सरोवर मिशन' की भी शुरुआत की और राष्ट्रीय पंचायत पुरस्कार की राशि को सांबा में विजेता पंचायतों के बैंक खातों में स्थानांतरित किया. उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति को शिक्षा और स्वास्थ्य मिले. इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने किश्तवाड़ ज़िले में चिनाब नदी पर 850 मेगावाट की रतले जलविद्युत परियोजना और 540 मेगावाट की क्वार जलविद्युत परियोजना की आधारशिला रखी.

PM मोदी का वादा, 'जो जिंदगी आपके दादा-नाना ने गुजारी वैसे नहीं जीने दूंगा'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि घाटी के नौजवान मेरे शब्दों का भरोसा करें. आपके पूर्वजों को जिन मुसीबतों से जिंदगी जीनी पड़ी, वो जिंदगी आपको नहीं जीने दूंगा. उन्होंने कहा कि 8 साल में एक भारत श्रेष्ठ भारत के मंत्र को पूरा करने के लिए लगातार काम किया है. पंचायतों को सीधा 22 हजार करोड़ का बजट मिलेगा. उन्होंने कहा कि पल्ली गांव ऊर्जा स्वराज का उदाहरण बना है. पीएम ने कहा कि हमारी प्राथमिकता दूरियां मिटाना है.

PM मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें.

पीएम ने कहा, 'मैं जम्मू कश्मीर के नौजवानों से कहना चाहता हूं कि आपके माता-पिता, दादा-दादी और नाना-नानी को जिन मुसीबतों के साथ जिंदगी जीनी पड़ी. आपको कभी भी ऐसी जिंदगी जीनी नहीं पड़ेगी, ये मैं आपको करके दिखाऊंगा.'

पीएम बोले- आजादी के अमृत काल यानी आने वाले 25 वर्षों में नया जम्मू कश्मीर विकास की नई गाथा लिखेगा. आजादी के 7 दशकों के दौरान जम्मू कश्मीर में मात्र 17,000 करोड़ रुपये का ही प्राइवेट इंवेस्टमेंट हो पाया था. पिछले 2 साल में ये आंकड़ा 38,000 करोड़ रुपये पहुंचा है.'

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार की योजनाएं अब यहां तेजी से लागू हो रही हैं. जिसका सीधा फायदा जम्मू कश्मीर के गांवों को हो रहा है. बिजली कनेक्शन हो, पानी कनेक्शन हो, स्वच्छ भारत अभियान के तहत टॉयलेट्स हो, इसका बड़ा लाभ जम्मू कश्मीर को मिला है.'

पीएम ने कहा, 'दशकों-दशक से जो बेड़ियां वाल्मीकि समाज के पांव में डाल दी गई थीं, उनसे वो मुक्त हुआ है. आज हर समाज के बेटे-बेटियां अपने सपनों को पूरा कर पा रहे हैं. जम्मू-कश्मीर में बरसों तक जिन साथियों को आरक्षण का लाभ नहीं मिला, अब उन्हें भी आरक्षण का लाभ मिल रहा है.'

पीएम मोदी ने कहा, 'पिछले 2-3 सालों में जम्मू कश्मीर में विकास के नए आयाम स्थापित हुए हैं.केंद्र के करीब पौने दो सौ कानून जो यहां लागू नहीं किए जाते थे. हमने जम्मू कश्मीर के हर नागरिक को सशक्त बनाने के लिए उन कानूनों को लागू कर दिया.'

पीएम बोले- इस बार पंचायती राज दिवस जम्मू कश्मीर में मनाया जाना एक बड़े बदलाव का प्रतीक है.ये गर्व की बात जब लोकतंत्र जम्मू कश्मीर में ग्रास रूट तक पहुंचा है, तब यहां से मैं देशभर की पंचायतों से संवाद कर रहा हूं.

पीएम ने कहा, 'न ये भू-भाग मेरे लिए नया है, और न मैं आप लोगों के लिए नया हूं.मैं यहां की बारिकियों से अनेक वर्षों से परिचित रहा हूं. मेरे लिख खुशी की बात है कि आज यहां कनेक्टिविटी और बिजली से जुड़े 20,000 करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट का लोकार्पण और शिलान्यास हुआ है.'

पीएम मोदी ने कहा, 'भारत का विकास वोकल फोर लोकल के मंत्र में छिपा है.भारत के लोकतंत्र के विकास की ताकत भी लोकल गवर्नेंस है.आपके काम का दायरा भले ही लोकल है, लेकिन इसका सामुहिक प्रभाव वैश्विक होने वाला है.लोकल की इस ताकत को हमें पहचानना है.'

पीएम मोदी ने कहा, 'पंचायती राज व्यवस्था में बहनों की भागीदारी को और बढ़ाने पर भी हमारी सरकार का बहुत जोर है. भारत की बहन बेटियां क्या कर सकती हैं, ये कोरोना काल में दुनिया को भारत के अनुभव ने बहुत कुछ सिखाया है. ग्राम पंचायतों को सबको साथ लेकर एक और काम भी करना है. कुपोषण, एनीमिया से देश को बचाने का जो बीड़ा केंद्र सरकार ने उठाया है, उसके प्रति जमीन पर लोगों को जागरूक भी करना है'.

पीएम ने कहा, 'आजादी का ये अमृतकाल भारत का स्वर्णिम काल होने वाला है. ये संकल्प सबका प्रयास से सिद्ध होने वाला है. इसमें लोकतंत्र की सबसे जमीनी इकाई, ग्राम पंचायत की, आप सभी साथियों की भूमिका बहुत अहम है.'

Arun Mishra

About author
Assistant Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it