Begin typing your search...

#BJPSthapnaDiwas : BJP के 42वें स्थापना दिवस पर PM मोदी का संबोधन, कार्यकर्ताओं को दिया ये खास मंत्र

PM मोदी ने बुधवार को BJP के 42वें स्थापना दिवस पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया.

#BJPSthapnaDiwas : BJP के 42वें स्थापना दिवस पर PM मोदी का संबोधन, कार्यकर्ताओं को दिया ये खास मंत्र
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी के 42वें स्थापना दिवस (BJP 42nd Foundation Day) पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. इस दौरान पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं से कहा कि मेरी प्रार्थना है कि मां स्कंदमाता का आशीर्वाद देशवासियों पर, भाजपा के प्रत्येक कर्मठ कार्यकर्ता और प्रत्येक सदस्य पर हमेशा बना रहे.

'बीजेपी एक भारत, श्रेष्ठ भारत के संकल्प पर सशक्त'

पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने कहा, 'आज नवरात्रि की पांचवीं तिथि भी है, आज के दिन हम सभी मां स्कंदमाता की पूजा करते हैं. हम सबने देखा है कि मां स्कंदमाता कमल के आसन पर विराजमान रहती हैं और अपने दोनों हाथों में कमल का फूल थामें रहती हैं.' उन्होंने आगे कहा, 'मैं देश और दुनिया भर में फैले भाजपा के प्रत्येक सदस्य को बहुत बहुत शुभकामनाएं देता हूं. कश्मीर से कन्याकुमारी, कच्छ से कोहिमा तक भाजपा एक भारत, श्रेष्ठ भारत के संकल्प को निरंतर सशक्त कर रही है.'

3 और वजहों से इस बार का स्थापना दिवस महत्वपूर्ण

पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, 'इस बार का स्थापना दिवस 3 और वजहों से महत्वपूर्ण हो गया है. पहला कारण है कि इस समय हम देश की आजादी के 75 वर्ष का पर्व मना रहे हैं, आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं. ये प्रेरणा का बहुत बड़ा अवसर है. दूसरा कारण है- तेजी से बदलती हुई वैश्विक परिस्थितियां, बदलता हुआ ग्लोबल ऑर्डर. इसमें भारत के लिए लगातार नई संभावनाएं बन रही हैं. तीसरा कारण भी उतना ही अहम है. कुछ सप्ताह पहले चार राज्यों में भाजपा की डबल इंजन की सरकारें वापस लौटी हैं. तीन दशकों के बाद राज्यसभा में किसी पार्टी के सदस्यों की संख्या 100 तक पहुंची है.'

लगातार बढ़ रहा बीजेपी कार्यकर्ताओं को दायित्व: पीएम

पीएम मोदी ने आगे कहा, 'वैश्विक दृष्टिकोण से देखें या राष्ट्रीय दृष्टिकोण से, भाजपा का दायित्व, भाजपा के प्रत्येक कार्यकर्ता का दायित्व लगातार बढ़ रहा है. इसलिए भाजपा का प्रत्येक कार्यकर्ता, देश के सपनों का प्रतिनिधि है, देश के संकल्पों का प्रतिनिधि है. इस अमृत काल में भारत की सोच आत्मनिर्भरता की है, लोकल को ग्लोबल बनाने की है, सामाजिक न्याय और समरसता की है. इन्हीं संकल्पों को लेकर एक विचारबीज के रूप में हमारी पार्टी की स्थापना हुई थी. इसलिए ये अमृत काल भाजपा के हर कार्यकर्ता के लिए कर्तव्य काल है.'

पीएम मोदी ने कहा, 'आज दुनिया के सामने एक ऐसा भारत है जो बिना किसी डर या दबाव के, अपने हितों के लिए अडिग रहता है. जब पूरी दुनिया दो विरोधी ध्रुवों में बंटी हो, तब भारत को ऐसे देश के रूप में देखा जा रहा है, जो दृढ़ता के साथ मानवता की बात कर सकता है.' उन्होंने आगे कहा, 'हमारी सरकार राष्ट्रीय हितों को सर्वोपरि रखते हुए काम कर रही है. आज देश के पास नीतियां भी हैं, नियत भी है. आज देश के पास निर्णयशक्ति भी है, और निश्चयशक्ति भी है. इसलिए, आज हम लक्ष्य तय कर रहे हैं, उन्हें पूरा भी कर रहे हैं.'

स्थापना दिवस पर लखनऊ में गरजे सीएम योगी

इससे पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने बीजेपी के 42वें स्थापना दिवस (BJP 42nd Foundation Day) पर लखनऊ पार्टी कार्यालय में पार्टी का झंडा फरहाया. बीजेपी के 'स्थापना दिवस' के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भाजपा की यात्रा देश और दुनिया के राजनीतिक विश्लेषकों के लिए आश्चर्य का विषय है. ये यात्रा बहुत कुछ कह देती है. उन्होंने आगे कहा, 'भारतीय जनसंघ की स्थापना का उद्देश्य यही था कि हमें सत्ता की राजनीति नहीं, हमें भारत के लिए समर्पण का भाव पैदा करने वाले लोगों को एक राजनीतिक दल के रूप में आगे बढ़ाने का कार्य करना है.'

6 अप्रैल 1980 को हुई थी भाजपा की स्थापना

देश के राजनीतिक इतिहास में छह अप्रैल का दिन खास अहमियत रखता है और इसी दिन साल 1980 में भारतीय जनता पार्टी की स्थापना हुई थी. श्यामा प्रसाद मुखर्जी द्वारा 1951 में स्थापित भारतीय जन संघ से इस नई पार्टी का जन्म हुआ था. 1977 में आपातकाल की घोषणा के बाद जनसंघ का कई अन्य दलों से विलय हुआ और जनता पार्टी का उदय हुआ. पार्टी ने 1977 के आम चुनाव में कांग्रेस से सत्ता छीन ली और 1980 में जनता पार्टी को भंग करके भारतीय जनता पार्टी (BJP) की नींव रखी गई.

Arun Mishra

About author
Assistant Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it