Begin typing your search...

कांग्रेस को हिंदू धर्म गुरुओं से नफरत क्यों, आचार्य प्रमोद कृष्णम पर हमले के बाद वरिष्ठ पत्रकार सुमित अवस्थी ने किया ये सवाल?

आचार्य प्रमोद कृष्णम पर कटाक्ष करने से हिंदू धर्म में कांग्रेस के खिलाफ नाराजगी बढ़ती नजर या रही है।

कांग्रेस को हिंदू धर्म गुरुओं से नफरत क्यों, आचार्य प्रमोद कृष्णम पर हमले के बाद वरिष्ठ पत्रकार सुमित अवस्थी ने किया ये सवाल?
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

देश में जब जब कांग्रेस हिंदू धर्म गुरुओं पर हमला करेगी तब तब देश में कांग्रेस का नुकसान होता रहेगा। अभी कांग्रेस के दिग्गज नेता जयराम रमेश और हिंदू धर्म गुरु और कांग्रेस की खुलकर वकालत करने वाले आचार्य प्रमोद कृष्णम शोसल मीडिया पर आमने सामने भिड़े हुए है।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा था कि उदयपुर में युवक की जघन्य हत्या की भर्त्सना करता हूं। इस घटना में शामिल सभी अपराधियों कठोर कार्रवाई की जाएगी एवं पुलिस अपराध की पूरी तह तक जाएगी। मैं सभी पक्षों से शान्ति बनाए रखने की अपील करता हूं। ऐसे जघन्य अपराध में लिप्त हर व्यक्ति को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी। इस पर आचार्य प्रमोद कृष्णम ने अशोक गहलोत से सवाल किया था कि आपने अब तक पुलिस अधिकारियों पर कार्यवाही क्यों नहीं की जो एक जायज सवाल है।

आचार्य प्रमोद कृष्णम कल्कि पीठाधीश्वर के नाम से भी जाने जाते है। उन्हे सेकुलर धर्म गुरु का भी जनक माना जाता है। उन्हीं आचार्य प्रमोद कृष्णम ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से ट्विटर पर कन्हैया लाल के मर्डर को लेकर सवाल किया। उन्होंने पूँछा कि धमकी मिलने के बावजूद भी "कन्हैया" को सुरक्षा उपलब्ध क्यूँ नहीं करायी गयी? क़ातिलों के साथ साथ "पुलिस" प्रशासन भी बराबर का दोषी है। SSP DIG के ख़िलाफ़ अभी तक कार्यवाही क्यूँ नहीं की गयी, क्या "राजस्थान" में "सरकार" का इक़बाल बिलकुल ख़त्म हो गया है?

इस पर जयराम रमेश ने उन्हे धमकाते हुए कहा कि दूसरी बार लक्ष्मण रेखा पार करने से पहले एक बार तो सोचना चाहिए था आदरणीय प्रमोद त्यागी जी। जो आपने लिखा है वो वैसे भी तथ्यों से बहुत परे है। आखिर एक धर्म गुरु को आचार्य प्रमोद कृष्णम से सीधा प्रमोद त्यागी कहने वाले जयराम रमेश क्या वास्तव में कांग्रेस की लुटिया डुबोने मे लगे हुए है।

इस पर चुटकी लेते हुए वरिष्ठ पत्रकार सुमित अवस्थी ने ली चुटकी और बोले क्या ये तीसरी बार लक्ष्मण रेखा पार नहीं कर रहे हैं आप आचार्य प्रमोद कृष्णम ? ऊपर वाला (जयराम रमेश) सब देख रहा है! वैसे अगर जयरामजी ये बता पाये कि पार्टी कितनी बार लक्ष्मण रेखा लांघन स्वीकार्य (allowed) है?तो ये प्रमोद त्यागी… क्या है? कौन है जो इसका समाधान बता सकता है!

सुमित अवस्थी की चुटकी पर आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा कि मेरे भाग्य की विडम्बना यही है सुमित जी, "भाजपा" इस लिये अपमानित करती है कि मैं कांग्रेसी हूँ और ये "महाशय" मेरा अपमान इस लिये कर रहे हैं कि मैं एक हिंदू "धर्माचार्य" हूँ।

बता दें कि आचार्य प्रमोद कृष्णम के इस बात से उनके समर्थकों में भारी रोष व्याप्त है। जहां ये भी उम्मीद की जा रही है कि एक दो जगह से जयराम रमेश के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की जाएगी। वैसे इससे पहले भी उन्होंने आचार्य प्रमोद पर सवाल खड़ा किया था और बोले थे कि आप कांग्रेस के प्रवक्ता नहीं है जबकि आचार्य प्रमोद कृष्णम कांग्रेस के बेहतरीन पक्ष रखते या रहे है। अब देखना यह है जब देश में हिंदू धर्म को लेकर आस्था बढ़ रही है तब कांग्रेस उस सवाल खड़ा करके क्या पुनर्जीवित हो पाएगी या नहीं ये तो आने वाला समय बताएगा। फिलहाल कांग्रेस आपस में ही लड़कर खुद परेशान नजर आ रही है।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it