Top
Begin typing your search...

नए संसद निर्माण कार्य पर बोले स्‍पीकर बिरला,दी अहम् जानकारी

नए संसद निर्माण कार्य पर बोले स्‍पीकर बिरला,दी अहम् जानकारी

नए संसद निर्माण कार्य पर बोले स्‍पीकर बिरला,दी अहम् जानकारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली. कोरोनाकाल के बीच संसद का मॉनसून सत्र 2021 शुरू होने जरा है.यह सत्र 19 जुलाई से13 अगस्‍त तक चलेगा. लोकसभा स्‍पीकर ओम बिरला ने सोमवार को एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में यह जानकारी मिडिया से साझा की.उन्‍होंने कहा कि कोरोनाकाल के दौरान संसद के तीन सत्र अभी तक हुए हैं, जिसमें बड़ी संख्‍या में सांसद मौजूद रहे है.

संसद के बजट सेशन के दौरान 167 फीसदी प्रोडक्टिविटी रही जो अपने आप में रिकॉर्ड है.वही स्‍पीकर ओम बिरला नए संसद भवन का जिक्र करते हुए कहा निर्माण कार्य अक्‍टूबर 2021 में पूरा होने की संभावना है. उन्होंने यह भी कहा की हम नए संसद भवन निर्माण कार्य के लक्ष्य से 10 दिन पीछे चल रहे हैं, जल्दी ही इसे पूरा कर लिया जाएगा.स्‍पीकर बिरला ने कहा कि 2022 में संसद का सत्र नई बिल्डिंग में चलेगा. संसद के मॉनसून सत्र के दौरान 19 बैठकें होंगी

लोकसभा स्‍पीकर बिरला ने बताया कि हम कोरोना नियमो को में रखकर संसद का मॉनसून सत्र शुरू कर रहे है. कई राज्‍यों में संक्रमण दर 5 फीसदी से ज्‍यादा है, ऐसे में RTPCR की सुविधा 24 घंटे उपलब्‍ध रहेगी. उन्‍होंने बताया कि 311 सांसदों ने कोरोना का दूसरा डोज ले लिया है जबकि 23 सांसदों ने वैक्‍सीन नहीं लगवाई है.सांसदों के स्‍टाफ के लिए भी वैक्‍सीनेशन की व्‍यवस्‍था की गई है.

उन्होंने कहा, जिन सांसदों ने कोरोना वैक्‍सीन का डोज लिया है उन्‍हें RTPCR टेस्‍ट की जरूरत नहीं है लेकिन जिन्‍होंने वैक्‍सीन का डोज नहीं लिया, उनके लिए इस टेस्‍ट की सुविधा रहेगी. इन सांसदों से हम आग्रह करेंगे कि वे टेस्‍ट करवाएं. इसके साथ की मीडिया के जिन लोगों ने कोविड वैक्‍सीन का डबल डोज़ लिया है, उन्‍हें टेस्‍ट की जरूरत नहीं है, हम सुरक्षा नियमों के साथ सभी मीडिया के साथियो को इजाजत देंगे..

लोकसभा अध्‍यक्ष ने बताया कि 18 जुलाई को सभी दलों की मीटिंग होगी. उन्‍होंने बताया कि 36 सांसद अब मंत्री बन गए हैं, ऐसे में उनकी जगह पर संसदीय समिति में वैकेंसी जल्‍द भरी जाएंगी. उन्‍होंने कहा कि संसदीय कार्यवाही के डिजिटलाइजेशन के लिए पहल की जाएगी और पार्लियामेंट की लाइब्रेरी को पूरी तरह डिजिटलाइज किया जाएगा. उन्‍होंने संसद सत्र के दौरान सभी सियासी पाटियों से सहयोग की उम्‍मीद जताई.










RUDRA PRATAP DUBEY
Next Story
Share it