Top
Begin typing your search...

रजनीकांत की पत्‍नी के स्‍कूल पर लगा ताला, वजह चौंकाने वाली, लग सकता है मानहानि का केस

रजनीकांत की पत्‍नी के स्‍कूल पर लगा ताला, वजह चौंकाने वाली, लग सकता है मानहानि का केस
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

चेन्‍नई : साउथ सुपरस्‍टार रजनीकांत के फैंस के लिए ये निराश करने वाली खबर है। सुपरस्टार रजनीकांत पूरे दक्षिणी एशिया में सबसे ज्यादा फीस लेने वाले कलाकार हैं। लेकिन उनकी पत्‍नी द्वारा चलाए जा रहे स्‍कूल पर ताला लगा दिया गया है और इसकी वजह चौंकाने वाली है।


रजनीकांत की पत्नी लता रजनीकांत द्वारा चलाए जा रहे स्कूल आश्चर्यजनक वजह से बंद हो गया है। इसका वजह है कि वो उसका किराया नहीं भर पाई हैं। यही नहीं, बताया जा रहा उनके स्कूल में कई महीनों से स्टाफ को सैलरी तक नहीं दी जा रही थी, जिससे परेशान होकर पिछले साल दिसंबर में ही स्कूल के सभी ड्राइवरों ने हड़ताल तक कर दी थी।


दरअशल रजनीकांत की पत्नी लता रजनीकांत द्वारा संचालित 'आश्रम' नामक स्कूल में करीब 400 बच्चे पढ़ते हैं। स्कूल पर ताला लगने के बाद इन सभी बच्चों को दूसरे संस्थान में स्थानांतरित कर दिया गया है। जिस इमारत में स्‍कूल चलाया जा रहा था, उसका वह किराया नहीं भर रही थीं। ऐसे में मकान मालिक ने स्कूल पर ताला जड़ दिया।


लता रजनीकांत का स्कूल जिस इमारत में चलता है उसके मालिक का नाम वेंकटेश्वरलु हैं। मकान मालिक का दावा है कि मई 2018 यानी इमारत खाली करने तक स्कूल प्रबंधन न्यायालय के निर्देशानुसार किराए का भुगतान करने पर सहमत हुआ था। लेकिन इसके बावजूद भी स्कूल प्रबंधन ने किराए का भुगतान नहीं किया है। इसलिए उन्होंने स्कूल पर ताला जड़ दिया है।


वहीं स्कूल प्रबंधन का कहना है कि वह मकान मालिक के खिलाफ मानहानि का मामला दर्ज करने का फैसला किया है। मौजूदा परिसर में एक दशक से अधिक समय से स्कूल चल रहा था, मगर हाल ही में मकान मालिक के पारिवारिक विवाद के कारण उन्हें बहुत अधिक परेशानी का सामना करना पड़ा है।


अपने बयान में स्कूल प्रबंधन ने कहा कि, यह सिर्फ किराए की बात नहीं, बल्कि उनके शोषण की है। हमारे बीच जो समझौता हुआ और बातचीत हुई थी, यह किराया उसके आधार पर नहीं है। किराया अनुचित, अतार्किक और बहुत अधिक है।

Vikas Kumar
Next Story
Share it