Begin typing your search...

मोदी के किले को बचाने के लिए उतरेंगे 'चाणक्य' अमित शाह, चलेगा ब्रह्मास्त्र

मोदी के किले को बचाने के लिए उतरेंगे चाणक्य अमित शाह, चलेगा ब्रह्मास्त्र
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
गुजरात: मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल के इस्तीफे के बाद बीजेपी नए मुख्यमंत्री के नाम का ऐलान अगले दो-तीन दिन में कर सकती है। गुजरात में टूटते जनाधार को संभालने के लिए बीजेपी अमित शाह को भी अगला सीएम बना सकती है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गुजरात के अगले सीएम के तौर पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के नाम पर भी गंभीरता से विचार किया जा रहा है।

सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री बनने की रेस में सबसे ऊपर गुजरात बीजेपी के अध्यक्ष विजय रुपानी का नाम लिया जा रहा है। सियासी गलियारे में इस पद के दावेदार के लिए कुछ और नामों पर चर्चा चल रही है। दरअसल, विजय रुपानी के लिए कहा जाता है कि संगठन में उनकी अच्छी पकड़ है।

आनंदीबेन के गुजरात के मुख्यमंत्री बनने के बाद बीजेपी की अंदरूनी उठापठक हाईकमान के पास जा रही थी। यही वजह थी कि संगठन को मजबूत बनाने के लिये विजय रुपानी को अध्यक्ष बनाया गया। हालांकि विजय रुपानी खुद सरकार में भी परिवहन मंत्री की भूमिका में हैं। ऐसे में सरकार चलाने का अनुभव भी उनके पास करीब एक साल का है।

विजय रुपानी का नाम इसलिए भी सब से ऊपर लिया जा रहा है कि वो अमित शाह के करीबियों में से एक हैं। यहां तक कि पिछले दिनों सरकार की जितनी भी महत्वपूर्ण योजनाएं घोषित की गईं, वो सभी आनंदीबेन पटेल की जगह विजय रुपानी ने ही की। हालांकि जानकार ये भी मान रहे हैं कि गैर-पाटीदार समुदाय से मुख्यमंत्री बनाए जाने पर बीजेपी को गुजरात में पाटीदार वोटों का नुकसान भी झेलना पड़ सकता है।

दूसरा नाम नितिन पटेल का आ रहा है। नितिन पटेल एक तो पाटीदार समुदाय से आते हैं, साथ ही वो लंबे वक्त से सरकार में मंत्री बने हुए हैं। नरेन्द्र मोदी जब गुजरात में मुख्यमंत्री थे, उस वक्त नितिन पटेल मोदी के करीबी नेताओ में से एक थे।
Special Coverage News
Next Story