Begin typing your search...

मणिपुर: कांग्रेस को लगा झटका!, दो विधायक BJP में शामिल, जानिए क्या थी वजह

मणिपुर में कांग्रेस के दो विधायक सत्ताधारी BJP में शामिल।

मणिपुर: कांग्रेस को लगा झटका!, दो विधायक BJP में शामिल, जानिए क्या थी वजह
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
इम्फाल: 60 सदस्यीय मणिपुर विधानसभा में कांग्रेस के दो विधायकों के सत्ताधारी BJP में शामिल हो जाने के बाद भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार के विधायकों की संख्या बढ़कर 40 हो गई है। कार्य एवं सूचना मंत्री बिश्वजीत सिंह ने कल यहां एक सभा को बताया कि कांग्रेस के विधायक क्षेत्रीमयूम बीरेन सिंह और पाओनम ब्रोजन बीते शनिवार को भाजपा में शामिल हो गए। इसके साथ ही भाजपा के विधायकों की संख्या बढ़कर 31 हो गई।
मणिपुर विधानसभा में एन बीरेन सिंह की अध्यक्षता में भाजपा के नेतृत्व वाले गठबंधन में भाजपा के 31, नागा पीपल्स फ्रंट के चार, नेशनलिस्ट पीपल पार्टी के चार और एक निर्दलीय विधायक है। वर्ष 2017 में हुए पिछले विधानसभा चुनाव में चुने गए 28 कांग्रेसी विधायकों में से अब तक आठ भाजपा में शामिल हो चुके हैं।
गठबंधन की सरकार के सात संसदीय सचिवों द्वारा शनिवार को इस्तीफा दिए जाने की खबरों के बारे में पूछे जाने पर सिंह ने कहा, ''उन्होंने राज्य विधानसभा की कई समितियों के अध्यक्षों के रूप में नए काम हाथ में लेने के लिए इस्तीफे दे दिए हैं। उन्होंने कहा कि सत्ताधारी दलों के विधायकों के बीच कोई गलतफहमी नहीं थी। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि इस समय विधानसभा में कांग्रेस के विधायकों की संख्या घटकर 20 रह गई है।
मुख्यमंत्री बिरेन सिंह और BJP के प्रदेश अध्यक्ष भाबनंदा ने कांग्रेस के पाला बदलने वाले विधायकों का भाजपा दफ्तर में स्वागत किया। इस घटनाक्रम पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष टीएन हाओकिप ने कहा, 'चुनाव के बाद चीजें बदली हैं। मित्र शत्रु बन गए हैं। यहां कोई सिद्धांत या विचार नहीं है। जो लोग दूसरी पाटिर्यों में शामिल हो रहे हैं, उन्हें अयोग्य ठहराए जाने का डर नहीं है।'

Special Coverage News
Next Story
Share it