Top
Begin typing your search...

'ऑक्‍सीजन की कमी से कोई मौत नहीं' बयान पर राजनीति तेज, प्रियंका गांधी ने केंद्र सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

सरकार की तरफ से राज्यसभा में कहा गया कि कोरोना काल के दौरान ऑक्सीजन की कमी की वजह से एक भी मौत नहीं हुई.

ऑक्‍सीजन की कमी से कोई मौत नहीं बयान पर राजनीति तेज, प्रियंका गांधी ने केंद्र सरकार पर लगाए गंभीर आरोप
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : कांग्रेस महासचिव और यूपी कांग्रेस प्रभारी प्रियंका गांधी ने केंद्र सरकार के 'ऑक्सीजन की कमी से कोई मौत नहीं हुई' वाले बयान को लेकर हमला बोला है. प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कोरोना की दूसरी लहर के दौरान मौत के कारण बताए. उन्होंने कहा कि मौतें इसलिए हुईं क्योंकि महामारी वाले साल में सरकार ने ऑक्सीजन निर्यात 700 प्रतिशत तक बढ़ा दिया था. क्योंकि सरकार ने ऑक्सीजन ट्रांसपोर्ट करने वाले टैंकरों की व्यवस्था नहीं की.

प्रियंका गांधी ने कहा कि मौतें इसलिए हुईं क्योंकि एंपावर्ड ग्रुप और संसदीय समिति की सलाह को नजरंदाज कर ऑक्सीजन उपलब्ध कराने का कोई इंतजाम नहीं किया. अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लगाने में कोई सक्रियता नहीं दिखाई . इससे पहले राहुल गांधी ने भी केंद्र की मोदी सरकार पर कोरोना से हुई मौतों को लेकर हमला बोला था. उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि 'सिर्फ ऑक्सीजन की ही कमी नहीं थी, संवेदनशीलता और सत्य की भारी कमी- तब भी थी, आज भी है.

केंद्र ने राज्यसभा में जारी किया था बयान

दरअसल, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से राज्यसभा में मंगलवार को कहा गया कि कोरोना काल के दौरान ऑक्सीजन की कमी की वजह से एक भी मौत नहीं हुई. ये बयान राज्यसभा में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से बयान जारी किया गया था. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि किसी भी राज्य या फिर केंद्र शासित प्रदेश ने यह नहीं बताया कि कोई भी मौत ऑक्सीजन की कमी के चलते हुई है.

स्वास्थ्य राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार ने मंगलवार को बताया कि कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के दौरान किसी भी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश से ऑक्सीजन के अभाव में किसी भी मरीज की मौत की खबर नहीं मिली है. उन्होंने एक प्रश्न के लिखित उत्तर में यह जानकारी दी. केंद्र के इस बयान के बाद से ही विपक्ष ने भी सरकार के खिलाफ बयान जारी करना शुरू कर दिया है.

संसद में कोरोना को लेकर सरकार को घेरने की तैयारी में विपक्ष

विपक्ष मानसून सत्र की कार्यवाही के दौरान केंद्र सरकार को घेरने की तैयारी में है. विपक्ष का कहना है कि सरकार की लापरवाही के कारण कोरोना की दूसरी लहर के दौरान लोगों की मौत हुई. सरकार की तरफ से कोरोना को लेकर किसी तरह का कोई प्रबंधन नहीं किया गया.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it