Top
Begin typing your search...

प्रियंका गांधी वाड्रा की अब राज्यसभा में होगी इंट्री, सदन में करेंगी दो-दो हाथ?

राज्यसभा में कुल सदस्यों की संख्या 250 होती है, जिनमें से 12 सदस्यों को भारत के राष्ट्रपति मनोनीत करते हैं. जबकि 238 राज्यों और संघ-राज्य क्षेत्रों द्वारा चुने सदस्य होते हैं.

प्रियंका गांधी वाड्रा की अब राज्यसभा में होगी इंट्री, सदन में करेंगी दो-दो हाथ?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कांग्रेस पार्टी की जिस तरह से जनाधार कमजोर हो रहा था तो पार्टी के अंदर प्रियंका गांधी की इंट्री के साथ ही अब कुछ मजबूत होती दिख रही है वो इस समय कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव है। जो आये दिन अपने दौरों से भाजपा सपा और कई पार्टीयों की नींद हराम कर दी है और खास तौर से यूपी में बिन तैयारी के वो आम जनता के बीच पंहुच जाती है प्रियंका की अब राज्यसभा में जल्द ही एंट्री हो सकती है।

सूत्रों के मुताबिक, छत्तीसगढ़ कोटे से प्रियंका गांधी को राज्यसभा में भेजने की तैयारी कांग्रेस आलाकमान कर रही है. छत्तीसगढ़ में राज्यासभा की दो सीटों पर सांसदों का कार्यकाल अप्रैल 2020 में खत्म हो रहा है. विधानसभा में सदस्यों की संख्या के आधार पर इन दोनों राज्यसभा की सीटें कांग्रेस पार्टी के खाते में जानी तय मानी जा रही है. इस सेफ सीट से कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की राज्यसभा में एंट्री कराई जा सकती है.

छत्तीसगढ़ कोटे से राज्यसभा में पांच सीटें हैं. वर्तमान में तीन पर बीजेपी (BJP) और दो पर कांग्रेस पार्टी के सदस्यों का कब्जा है. अप्रैल में दो सीटें खाली हो रही हैं. छत्तीसगढ़ से राज्यसभा में कौन जाएगा, इसको लेकर माथा-पच्ची कांग्रेस में अभी से शुरू हो गई है. छत्तीसगढ़ से राज्यसभा सांसद के लिए प्रियंका गांधी के नाम को लेकर चर्चाएं जोरों पर हैं।

छत्तीसगढ़ में साल 2020 के अप्रैल में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोरा और बीजेपी के रणविजय सिंह जूदेव का कार्यकाल खत्म हो रहा है. एक सदस्य के लिए 34 विधायकों का समर्थन होना चाहिए. कांग्रेस के पास 69 विधायक हैं. यानी दोनों सीटें कांग्रेस के खाते में जाने वाली हैं. इसके बाद जून 2022 में कांग्रेस की छाया वर्मा और बीजेपी के रामविचार नेताम की जगह खाली होगी. इसमें भी कांग्रेस निर्विरोध जीत जाएगी, क्योंकि बीजेपी के 14, जोगी कांग्रेस के 5 और बसपा के 2 विधायक मिलाकर भी 34 की संख्या तक नहीं पहुंच पा रहे हैं. इस तरह राज्यसभा में छत्तीसगढ़ से कांग्रेस की ताकत बढ़ जाएगी।

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री महेन्द्र छाबड़ा का कहना है कि राज्यसभा में प्रदेश से कौन जाएगा इसका फैसला हाई कमान को करना है. लेकिन, छत्तीसगढ़ में अप्रैल 2020 में राज्यसभा की दो सीटें रिक्‍त हो रही हैं और दोनों सीटें बहुमत के आधार पर कांग्रेस के खाते में ही जाएंगी. अगर प्रियंका गांधी छत्तीसगढ़ से राज्यसभा सांसद चुन कर जाएंगी तो उनका हम स्वागत करेंगे. बीजेपी के प्रवक्ता केदार गुप्ता का कहना है कि कांग्रेस पार्टी के पास बहुमत है और वो यहां से राज्यसभा सांसदों को भेजने की तैयारी में है, लेकिन प्रियंका गांधी को छत्तीसगढ़ से राज्यसभा की सीट देना ठीक नहीं होगा. कांग्रेस को छत्तीसगढ़ के रहने वाले को पहली प्राथमिकता देनी चाहिए।

बता दें, राज्यसभा में कुल सदस्यों की संख्या 250 होती है, जिनमें से 12 सदस्यों को भारत के राष्ट्रपति मनोनीत करते हैं. जबकि 238 राज्यों और संघ-राज्य क्षेत्रों द्वारा चुने सदस्य होते हैं.

Sujeet Kumar Gupta
Next Story
Share it