Top
Begin typing your search...

शरद पवार के सवाल से तिलमिलाए राहुल गांधी, 'भूल नहीं सकते 1962 में क्या हुआ था?

कांग्रेस के सहयोगी दल एनसीपी के प्रमुख शरद पवार ने राहुल को आईना दिखाया है।

शरद पवार के सवाल से तिलमिलाए राहुल गांधी, भूल नहीं सकते 1962 में क्या हुआ था?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार चीन के मुद्दे पर केंद्र सरकार पर हमलवार हैं। अब इस पर उन्हीं के सहयोगी दल एनसीपी के प्रमुख शरद पवार ने उनको आईना दिखाया है। एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा है कि राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर राजनीति नहीं करनी चाहिए।

राहुल गांधी की ओर से चीन के मुद्दे पर केंद्र सरकार को लगातार घेरा जा रहा है. जिसके बाद अब एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को आईना दिखा दिया है। एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा है कि 1962 में क्या हुआ था इसको भूल नहीं सकते हैं। चीन ने हमारी 45000 वर्ग किमी क्षेत्र पर कब्जा कर लिया था।

चीन को लेकर लगातार दिए जा रहे राहुल के बयानों पर शरद पवार ने कहा, 'हम नहीं भूल सकते कि 1962 में क्या हुआ था। चीन ने हमारी 45 हजार स्क्वेयर किमी जमीन पर कब्जा कर लिया था। वर्तमान में मुझे नहीं पता कि चीन ने जमीन ली है या नहीं, मगर इस पर बात करते वक्त हमें इतिहास याद रखना चाहिए। राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर राजनीति नहीं करनी चाहिए।'

पवार ने कहा, युद्ध की कोई आशंका नहीं दिखती

पीवी नरसिम्हा राव सरकार के दौरान रक्षा मंत्री रहे शरद पवार ने कहा, 'मुझे अभी युद्ध की कोई आशंका नहीं दिखती है। हालांकि चीन ने जाहिर तौर पर हिमाकत तो की है। गलवान में भारतीय सेना ने जो भी निर्माण कार्य किया है वह अपनी सीमा में किया है।'

इससे पहले मोदी सरकार पर हमला करते हुए राहुल गांधी ने कहा, 'एक जरूरी सवाल उठता है। कुछ दिन पहले हमारे प्रधानमंत्री ने कहा कि हिंदुस्तान की एक इंच जमीन किसी ने नहीं ली, कोई हिंदुस्तान के भीतर नहीं आया। उपग्रह से ली गई तस्वीरों से पता चल रहा है, लद्दाख के लोग कह रहे हैं और सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारी कह रहे हैं कि चीन ने तीन जगह हमारी जमीन छीनी है।'

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it