Top
Begin typing your search...

उमा भारती ने JNU हिंसा करने वालों की तुलना सांपों की एक विशेष प्रजाति से की

उमा भारती ने JNU हिंसा करने वालों की तुलना सांपों की एक विशेष प्रजाति से की
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में रविवार को हुई हिंसा पर भाजपा नेता उमा भारती ने बुधवार को कहा कि विचारकों का एक धड़ा यूनिवर्सिटी के वातावरण में जहर घोल रहा है। उन्होंने इन विचारकों की तुलना सांपों की एक विशेष प्रजाति से की। उमा ने कहा कि ऐसे सांप संख्या में तो कम हैं, लेकिन बहुत जहरीले होते हैं। हमें समाधान निकालकर उन्हें ठीक करना होगा।

उधर, हिंसा के बाद जेएनयू गईं दीपिका पादुकोण की आलोचना हो रही है। तेलंगाना के भाजपा विधायक राजा सिंह ने उनकी फिल्म छपाक का बहिष्कार करने की अपील की है। पुलिस इस मामले में जांच कर रही है, लेकिन अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

बता दें जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय कैंपस में 5 जनवरी रविवार को छात्र गुटों में जमकर मारपीट हुई। इससे दोनों पक्षों के 30से अधिक छात्र घायल हो गए, जिनमें से 12 के सिर में गंभीर चोटें आईं। घायलों में छात्र संघ अध्यक्ष आईशी घोष सहित महिला शिक्षक भी शामिल थी। जेएनयू छात्रसंघ ने मारपीट व तोड़फोड़ का एबीवीपी पर आरोप लगाया। जबकि, एबीवीपी का कहना है कि यह सब लेफ्ट ने किया।

शाम के वक्त नकाब पहने 40 से 50 युवकों की भीड़ कैंपस में पहुंची और हॉस्टल में घुसकर हमला किया। कई वाहनों को तोड़ दिया गया। घायलों को एम्स ट्रामा और सफदरजंग अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। आरोप है कि हमलावर छात्राओें के हॉस्टल में भी घुस गए और मारपीट की। हमले की सूचना के बाद कई एंबुलेंस कैंपस पहुंची और घायलों को अस्पताल पहुंचाया। इसके बाद से कैंपस में छात्रों का धरना-प्रदर्शन जारी है।


Sujeet Kumar Gupta
Next Story
Share it