Begin typing your search...

आशाराम बापू के समर्थको को ग्रमीणो ने पीटा फिर पुलिस के हवाले किया

आशाराम बापू के समर्थको को ग्रमीणो ने पीटा फिर पुलिस के हवाले किया
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

अपने ही आश्रम की नाबालिग लड़की के उत्पीड़न के मामले में जोधपुर सेंट्रल जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे आसाराम के समर्थकों की सोमवार को पिटाई कर दी गई. घटना राजस्थान के झुंझुनूं जिले के अलसीसर गांव में हुई. आसाराम समर्थक वहां उसका प्रचार कर रहे थे. इससे गुस्साए लोगों ने उनको पीट डाला. बाद में उनको पुलिस के हवाले कर दिया. पुलिस ने आसाराम के समर्थकों की बाद में आईडी देखकर उनको छोड़ दिया. लेकिन पुलिस ने उनकी गाड़ी को जब्त कर लिया. जानकारी के अनुसार आसाराम के कुछ समर्थक सोमवार को अलसीसर गांव में उसका प्रचार प्रसार कर रहे थे.

वे लोगों के घरों और दुकानों पर जाकर किताबें बेच रहे थे. इस दौरान एक युवक ने उन्हें ऐसा करने से टोक दिया. युवक ने कहा कि जो आदमी जेल में बैठा है उसका प्रचार प्रसार करना गलत है. इससे गुस्साए आसाराम के समर्थकों ने उस युवक की पिटाई कर दी. इससे वहां हंगामा हो गया. पुलिस ने आईडी प्रूफ देखकर आसाराम समर्थकों को छोड़ा इसकी जानकारी जब ग्रामीणों को लगी तो वे आग बबूला हो गए. ग्रामीण ने मौके पर पहुंचकर आसाराम के समर्थकों को पकड़ लिया

उन्होंने एकत्र होकर आसाराम के समर्थकों को पीटना शुरू कर दिया. ग्रामीणों ने उनकी जमकर धुनाई की. बाद में आसाराम समर्थकों को पुलिस के हवाले कर दिया. पुलिस आसाराम के समर्थकों को पकड़कर थाने ले गई. वहां उसने युवकों के आईडी प्रूफ दिखाने के बाद छोड़ दिया. जबरन किताब लेने का दबाव बना रहे थे पुलिस ने आसाराम के समर्थकों की गाड़ी को जब्त कर लिया. उस गाड़ी में आसाराम से जुड़ी प्रचार सामग्री थी.

ग्रामीणों का कहना था कि आरोपी ग्रामीणों पर जबरन किताब लेने का दबाव बना रहे थे. मारपीट के दौरान ग्रामीणों ने इस पूरी घटना के वीडियो बना लिये. अब वो वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहे हैं. उल्लेखनीय है आसाराम नाबालिग के उत्पीड़न के मामले में आसाराम को जीवन की अंतिम सांस तक जेल में रखने की सजा सुनाई गई है. आसाराम के समर्थक जब-तब जोधपुर में भी हंगामा करते हैं. कई पुलिस आसाराम के समर्थकों को जोधपुर सेंट्रल जेल के आसपास से भी खदेड़ चुकी है

Desk Editor
Next Story
Share it