Begin typing your search...

सांसद संगम लाल गुप्ता पर हमले में बड़ी कार्यवाही, प्रमोद तिवारी और आराधना मिश्रा समेत 27 पर FIR दर्ज

सांसद संगम लाल गुप्ता की तहरीर पर 27 नामजद और 50 अज्ञात लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है.

सांसद संगम लाल गुप्ता पर हमले में बड़ी कार्यवाही, प्रमोद तिवारी और आराधना मिश्रा समेत 27 पर FIR दर्ज
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

प्रतापगढ़ : जनपद प्रतापगढ़ में भाजपा सांसद और समर्थकों की पिटाई मामले में अब यूपी पुलिस ने बड़ी कार्यवाही की है. सांसद संगम लाल गुप्ता पर हमले में पुलिस ने प्रमोद तिवारी और आराधना मिश्रा समेत 27 पर नामजद FIR दर्ज की है. सांसद संगम लाल गुप्ता की तहरीर पर लालगंज कोतवाली में केस दर्ज हुआ है. जिसमें 27 नामजद और 50 अज्ञात लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है. विधायक मोना मिश्रा के खिलाफ भी FIR दर्ज हुई है. प्रमोद, मोना के 28 समर्थकों पर FIR दर्ज हुई है. हत्या की कोशिश करने के आरोप में FIR दर्ज हुई है.

सांसद दे रहे हैं धरना

वहीँ इस पूरी घटना के बाद सांसद अपने सैकड़ों समर्थक कर रहे धरना प्रदर्शन कर रहे हैं. लखनऊ-वाराणसी राजमार्ग पर धरना प्रदर्शन जारी है. सांगीपुर विकास खंड में सांसद पर हमला हुआ था. प्रतापगढ़ के सांगीपुर ब्लॉक में हमला हुआ था. वायरल वीडियो में सांसद की भयानक पिटाई होते दिख रही है. सांसद को पुलिस ने किसी तरह ब्लॉक से निकाला था. प्रमोद तिवारी के समर्थकों ने आरोप लगाया है. सांसद संगम लाल गुप्ता ने मोना मिश्रा को गाली दी थी.

क्या था पूरा मामला

रविवार दोपहर को भाजपा सांसद संगम लाल गुप्ता रामपुर विधानसभा के सांगीपुर ब्लॉक में जन आरोग्य मेले में आए थे। इसी मेले में कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी और उनकी विधायक बेटी आराधना मिश्रा भी पहुंची थीं।

दरअसल, सांसद जब समर्थकों के साथ वहां पहुंचे तो कांग्रेस कार्यकर्ताओ के साथ किसी बात पर झड़प हो गई। मामला अचानक से बढ़ गया। देखते ही देखते कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रमोद तिवारी के सामने ही हॉल के अंदर भाजपा सांसद संगम लाल गुप्ता को लात-घूंसों से पीटना शुरू कर दिया। वह जान बचाने के लिए दौड़ने लगे। सुरक्षा गार्डों ने किसी तरह से उन्हें बचाया और बाहर लेकर आए। वह लंगड़ाते हुए कार तक गए। तभी उनके साथी को कांग्रेस ने पकड़ लिया। फिर बीच सड़क उसकी भी पिटाई की। बाद में पुलिस फोर्स ने सभी को खदेड़ा।

भाजपा सांसद बोले- पहले से प्लानिंग थी

भाजपा सांसद संगम लाल गुप्ता ने बताया कि सांगीपुर ब्लॉक में कार्यक्रम था। मैं मंच पर जा रहा था। पहले से प्लानिंग कर 50 से 60 लोग बैठे थे। वहां पर इंस्पेक्टर सांगीपुर के साथ मारपीट की जा रही थी। मैंने रोका तो मेरे ऊपर अटैक कर दिया। सुरक्षा कर्मियों ने मुझे खींचकर बचाया। जिसमें मेरे भी चोट लग गई। मेरी गाड़ी भी क्षतिग्रस्त कर दी गई। दौड़ा-दौड़ाकर थानेदार को मारा गया।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it