Begin typing your search...

चांदी के झूले में विराजमान रामलला,लाखों श्रद्धालुओं को दे रहें दिव्य दर्शन

चांदी के झूले में विराजमान रामलला,लाखों श्रद्धालुओं को दे रहें दिव्य दर्शन
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की पावन जन्मस्थली राम जन्मभूमि परिसर में चांदी के झूले पर विराजमान रामलला का नयनाभिराम दृश्य देखने के लिए रोजाना बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं का तांता लगा रहता है।

मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की नगरी अयोध्या में इन दिनों सावन मेले की धूम है। जगह-जगह मंदिरों में रामलला सरकार झूले में झूल रहे हैं और उनका यह दृश्य देखकर श्रद्धालु फूले नहीं समा रहे हैं।कुछ इसी तरह का दृश्य देखने को मिल रहा है मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की पावन जन्मस्थली राम जन्मभूमि परिसर में जहां झूले पर विराजमान रामलला का नयनाभिराम दृश्य देखने के लिए रोजाना बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं का ...

मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की नगरी अयोध्या में इन दिनों सावन मेले की धूम है। जगह-जगह मंदिरों में रामलला सरकार झूले में झूल रहे हैं और उनका यह दृश्य देखकर श्रद्धालु फूले नहीं समा रहे हैं।कुछ इसी तरह का दृश्य देखने को मिल रहा है मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की पावन जन्मस्थली राम जन्मभूमि परिसर में जहां झूले पर विराजमान रामलला का नयनाभिराम दृश्य देखने के लिए रोजाना बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं का तांता लग जाता है. चांदी के पालने में विराजमान रामलला सरकार की सेवा में कजरी गीतों की भेंट अर्पित की जा रही है. राम लला की आरती में न सिर्फ उनके भक्तजन शामिल होते हैं, बल्कि उनकी सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मी भी हाथ जोड़े इस पुनीत अवसर पर ड्यूटी करने के साथ ही आस्था भी अर्जित कर रहे हैं।

पुजारी सत्येंद्र दास झुलाते हैं झूला

रामलला सरकार की सेवा के लिए मुख्य अर्चक आचार्य सत्येंद्र दास सेवा पूजा अर्चना नियमित रूप से कर रहे हैं. वहीं, झूलन पर विराजमान रामलला सरकार को झूला भी जलाया जा रहा है. सावन झूला मेले में राम जन्मभूमि परिसर में श्रद्धालुओं की भीड़ लग गई है. इसलिए रामलला के दर्शन की अवधि को भी बढ़ाया गया है. वहीं, बड़ी संख्या में श्रद्धालु राम जन्मभूमि परिसर में चल रहे मंदिर निर्माण कार्य को भी देख रहे हैं। भगवान सहित माता सीता और सभी भाइयों का दिव्य स्वरूप देखकर श्रद्धालु मोहित हो रहे हैं और श्रद्धापूर्वक जयकारे लगा रहे हैं।


Satyapal Singh Kaushik
Next Story
Share it