Top
Begin typing your search...

खेल मंत्री किरेन रिजिजू का बड़ा बयान, बताया- कब और कैसे शुरू हो पाएगा IPL

खेल मंत्री किरेन रिजिजू का बड़ा बयान, बताया- कब और कैसे शुरू हो पाएगा IPL
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कोरोना वायरस महामारी के कारण पूरी दुनिया में खेल गतिविधियां ठप्प पड़ी हैं। कोरोना के चलते भारत में भी क्रिकेट की सबसे रोमांचक लीग आईपीएल अनिश्चित काल के लिए स्थगित है। ऐसे में पूरी दुनिया के क्रिकेट फैंस जल्द से जल्द आईपीएल के 13वें सीजन के आयोजन की उम्मीद कर रहे हैं। हालांकि COVID-19 के खतरे को देखते हुए फिलहाल दर्शकों की मौजूदगी में आईपीएल का आयोजन संभव नहीं दिख रहा है। इस बीच भारत के खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने आईपीएल के आयोजन को लेकर इंडिया टीवी के विशेष कार्यक्रम 'मंत्री सम्मेलन' में बड़ा बयान दिया है।

खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा, "हम चाहते हैं कि खेल जल्दी शुरू हो। लेकिन इस वक्त आईपीएल और कोई भी दूसरे खेल का आयोजन फिलहाल देश में संभव नही है। सरकार की पहली प्राथमिकता सेहत और सुरक्षा है। हालांकि स्पोर्ट्स एसोसिएशन इस साल अक्टूबर-नवंबर तक IPL और कबड्डी लीग पर फैसला ले सकती हैं।"

उन्होंने आगे कहा, "हमने देश में दोबारा खेलों को शुरू करने के लिए रोडमैप बनाया है। हमने सभी प्राइवेट और सरकारी कोचिंग सेंटर्स को प्रैक्टिस दोबारा शुरू करने का आदेश दिया है। कोविड-19 के माहौल में हमें फिलहाल बिना दर्शकों के खेलों की आदत डालनी होगी। हमने खेल संघों से इसकी तैयारी करने को कहा है।"

खेल मंत्री ने कहा कि कोरोना संकट के समय में बिना दर्शकों के खेलों का आयोजन कैसे हो ये सोचना होगा। किसी भी अंतरराष्ट्रीय खेल का आयोजन फिलहाल भारत में संभव नहीं है। उन्होंने कहा, "कोविड के माहौल में हमें फिलहाल बिना दर्शकों के खेलों की आदत डालनी होगी। हमने खेल संघों से इसकी तैयारी करने को कहा है।"

खेल मंत्री ने आगे कहा, "हम खेल संघों की मदद कर हैं। लेकिन इसके लिए हमें वित्त मंत्रालय आदि से भी सहायता की जरूरत होगी। हम इसके लिए बात कर रहे हैं। दर्शकों के बिना खेलों को हमें रोचक बनाना होगा। लेकिन इसका रेवेन्यू मॉडल क्या होगा, फिलहाल हम इस पर विचार कर रहे हैं।"

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it