Top
Begin typing your search...

डिविलियर्स बोले- अब जूनियर कोहली का इंतजार

डिविलियर्स बोले- अब जूनियर कोहली का इंतजार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

दुनिया जानती है कि कोहली बेहतरीन क्रिकेटर हैं, लेकिन डिविलियर्स के लिए वह एक अच्छे दोस्त हैं, जिनके क्रिकेट से इतर भी रुचियां हैं. डिविलियर्स ने कहा, 'वह सिर्फ एक क्रिकेट खिलाड़ी तक ही सीमित नहीं हैं. मेरा मानना है कि अधिकतर खिलाड़ियों को कुछ समय बाद यह अहसास होता है कि क्रिकेट से इतर भी जिंदगी है.

डिविलियर्स ने कहा कि उनका भारतीय कप्तान की अभिनेत्री पत्नी अनुष्का शर्मा से भी अच्छे रिश्ते हैं और वे पारिवारिक जीवन से लेकर कई मसलों पर बातचीत करते हैं. उन्होंने कहा, 'अनुष्का से मेरी बहुत अच्छी बातचीत होती है. हम बच्चों और परिवार को लेकर बात करते हैं. हम सभी जूनियर कोहली का इंतजार कर रहे हैं.

दक्षिण अफ्रीकी धुरंधर एबी डिविलियर्स का मानना है कि विराट कोहली की नैसर्गिक प्रतिभा उन्हें क्रिकेट का रोजर फेडरर बनाती है, जबकि स्टीव स्मिथ की मानसिक मजबूती राफेल नडाल से मेल खाती है.

जिम्बाब्वे के पूर्व तेज गेंदबाज पोमी मबांग्वा के साथ इंस्टाग्राम पर बातचीत के दौरान डिविलियर्स ने इन दो बल्लेबाजों को लेकर बात की जो अभी क्रिकेट में सबसे अधिक दर्शकों को स्टेडियम तक खींचने की क्षमता रखते हैं.

डिविलियर्स ने 'स्पोर्ट्स हरिकेन' पर बातचीत के दौरान कहा, 'यह मुश्किल है, लेकिन विराट निश्चित तौर पर अधिक नैसर्गिक खिलाड़ी हैं इसमें कोई संदेह नहीं.' उन्होंने कहा, 'टेनिस के संदर्भ में कहूं तो वह (रोजर) फेडरर की तरह हैं, जबकि स्मिथ (राफेल) नडाल की तरह. स्मिथ मानसिक तौर पर बेहद मजबूत हैं और वह रन बनाने के तरीके पता करते हैं. वह नैसर्गिक खिलाड़ी नहीं लगते, लेकिन वह क्रीज पर नए कीर्तिमान गढ़ रहा हैं.'

डिविलियर्स ने कहा, 'मैंने जितने भी खिलाड़ियों को देखा है उनमें से मेरा मानना है कि स्मिथ मानसिक रूप से सबसे मजबूत हैं. विराट ने भी दुनियाभर के मैदानों पर रन बनाए हैं और दबाव में मैच जीते हैं.'

डिविलियर्स का इसके साथ ही मानना है कि कोहली लक्ष्य का पीछा करने के मामले में सचिन तेंदुलकर से थोड़ा बेहतर है. उन्होंने कहा, 'सचिन हम दोनों (डिविलियर्स और कोहली) के लिए आदर्श रहे हैं. अपने जमाने में उन्होंने जिस तरह से बल्लेबाजी की, उन्होंने जो उपलब्धियां हासिल कीं, उन्होंने वह सब कुछ किया जो हर किसी के लिए शानदार उदाहरण हैं.'

डिविलियर्स ने कहा, 'और मुझे लगता है कि विराट भी यह कहेंगे कि उन्होंने हमारे लिए मानदंड तय किए हैं.' दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान ने कहा, 'लेकिन मेरी निजी राय है कि लक्ष्य का पीछा करते हुए मैंने जितने बल्लेबाजों को देखा उनमें विराट सर्वश्रेष्ठ हैं. सचिन सभी प्रारूपों और हर तरह की परिस्थितयों में लाजवाब थे, लेकिन लक्ष्य का पीछा करने के मामले में विराट का जवाब नहीं है.'

उन्होंने कहा, 'विराट शुरू से ही सोचने वाला क्रिकेटर रहे हैं. वह कई चीजों से प्रयोग करते हैं. वह जिम में नई चीजों को आजमाना पसंद करते हैं. वह जिंदगी से लेकर विभिन्न धर्मों के बारे में सोचते हैं. हम हर विषय पर बात करते हैं.'

डिविलियर्स ने कहा, 'यह बहुत अच्छी दोस्ती है और हम क्रिकेट पर भी बात करने का तरीका ढूंढ़ लेते हैं, लेकिन हमारी बातचीत 90 प्रतिशत अन्य चीजों पर आधारित होती है. इससे ताजगी मिलती है.

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it