Top
Begin typing your search...

सचिन तेंदुलकर vs विराट कोहली- जानिए ODI क्रिकेट में गौतम गंभीर ने किसे चुना

तेंदुलकर के नाम बल्लेबाजी के तमाम बड़े रिकॉर्ड्स दर्ज हैं, वो इकलौते ऐसे बल्लेबाज हैं, जिनके खाते में 100 इंटरनेशनल सेंचुरी दर्ज हैं।

सचिन तेंदुलकर vs विराट कोहली- जानिए ODI क्रिकेट में गौतम गंभीर ने किसे चुना
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर और मौजूदा भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सांसद गौतम गंभीर ने बताया कि वो वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर और टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली में से किसे चुनेंगे। गंभीर ने कहा कि वनडे इंटरनेशनल में वो सचिन तेंदुलकर को चुनेंगे, उन्होंने साथ ही इसका कारण भी बताया कि क्यों वो विराट पर तेंदुलकर को तरजीह देंगे। सचिन ने 2013 में क्रिकेट के सभी फॉर्मैट को अलविदा कह दिया था। तेंदुलकर के नाम बल्लेबाजी के तमाम बड़े रिकॉर्ड्स दर्ज हैं, वो इकलौते ऐसे बल्लेबाज हैं, जिनके खाते में 100 इंटरनेशनल सेंचुरी दर्ज हैं।

विराट कोहली की बात करें तो उनके खाते में 27 टेस्ट सेंचुरी और 43 वनडे इंटरनेशनल सेंचुरी दर्ज हैं। विराट 70 इंटरनेशनल सेंचुरी जड़ चुके हैं, उनके लिए कहा जाता है वो तेंदुलकर के 100 सेंचुरी के रिकॉर्ड को तोड़ सकते हैं। स्टार स्पोर्ट्स के 'क्रिकेट कनेक्टेड' शो पर जब गंभीर से पूछा गया कि वो विराट और सचिन में से किसे चुनेंगे तो उन्होंने कहा, 'सचिन तेंदुलकर, क्योंकि एक सफेद गेंद के साथ और चार फील्डरों के सर्कल में रहने से, ना कि पांच फील्डर आउटसाइड सर्कल में रहने से, मेरे लिए सचिन तेंदुलकर होंगे पसंद। यह काफी मुश्किल है, विराट कोहली ने शानदार खेल दिखाया है, लेकिन अब क्रिकेट के नियम भी बदले हैं, जिससे नए बल्लेबाजों को काफी मदद मिली है।'

गंभीर के कहा कि मौजूदा समय में क्रिकेट बल्लेबाजों के लिए काफी आसान हो चुका है, तेंदुलकर के समय में ऐसा नहीं था। दो नई गेंद, रिवर्स स्विंग का नहीं होना, फिंगर स्पिन के लिए कुछ नहीं होना, 50 ओवर मैच में पांच फील्डरों का सर्कल के अंदर रहना, आज के समय में क्रिकेट को बल्लेबाजों के लिए आसान बनाता है। उन्होंने कहा, 'आप सचिन तेंदुलकर को देखिए, उस समय नियम अलग होते थे, उन दिनों 230-240 रन विनिंग टोटल हुआ करते थे। मैं सचिन तेंदुलकर को चुनूंगा।'

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it