Top
Begin typing your search...

Harbhajan Singh Retires: हरभजन सिंह ने क्रिकेट को कहा अलविदा, 23 साल के करियर के बाद किया संन्यास का ऐलान

हरभजन सिंह ने सोशल मीडिया साइट ट्विटर के जरिए अपने संन्यास का ऐलान किया.

Harbhajan Singh Retires: हरभजन सिंह ने क्रिकेट को कहा अलविदा, 23 साल के करियर के बाद किया संन्यास का ऐलान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

दिग्गज ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से शुक्रवार को संन्यास ले लिया है. हरभजन सिंह ने सोशल मीडिया साइट ट्विटर के जरिए अपने संन्यास का ऐलान किया. इसके साथ ही उनके 23 साल के करियर का समापन हुआ.

41 साल के हरभजन ने लिखा, 'सभी अच्छी चीजें खत्म हो जाती हैं और आज मैं उस खेल से विदा लेता हूं, जिसने मुझे जीवन में सब कुछ दिया है, मैं उन सभी को धन्यवाद देना चाहता हूं, जिन्होंने इस 23 साल की लंबी यात्रा को सुंदर और यादगार बनाया, आपका तहे दिल से शुक्रिया, आभारी.'

हरभजन सिंह अगले IPL सीजन के लिए किसी एक टीम के साथ बतौर कोच या मेंटर जुड़ सकते हैं. हरभजन सिंह ने भारत के लिए अपना आखिरी इंटरनेशनल मुकाबला साल 2016 में UAE के खिलाफ एशिया कप टी-20 में खेला था. वहीं हरभजन पिछले IPL सीजन में कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ जुड़े थे.

ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने पिछले IPL मे सिर्फ 3 मुकाबले खेले थे जिसमें से उन्हें एक भी मुकाबले में सफलता नहीं मिली थी. रिपोर्ट्स के मुताबिक हरभजन सिंह किसी एक आईपीएल टीम के साथ कोच या मेंटर की भूमिका निभा सकते हैं. साथ ही आईपीएल के मेगा ऑक्शन में भी टीम के लिए वह अहम भूमिका निभा सकते हैं. हरभजन इसके पहले IPL में चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस के लिए खेलते नजर आए थे.

टेस्ट क्रिकेट में बनाई थी शानदार हैट्रिक टर्बनेटर के नाम से मशहूर हरभजन सिंह की गिनती दिग्गज ऑफ स्पिनरों के रूप में होती है. हरभजन ने अपनी गेंदबाजी से टीम इंडिया को कई मुकाबले जिताए. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2001 में कोलकाता के ईडन गार्डन्स में खेले गए ऐतिहासिक टेस्ट मैच में हैट्रिक भी झटकी थी. हरभजन उस वक्त सिर्फ 21 साल के थे और उस मुकाबले के बाद हरभजन सिंह टीम इंडिया का अहम हिस्सा बन गए थे. लेग स्पिनर अनिल कुंबले के साथ उनकी जोड़ी ने टीम इंडिया को कई ऐतिहासिक जीत दिलाई हैं.

2000 से लेकर 2010 तक हरभजन सिंह और अनिल कुंबले की जोड़ी ने ही भारतीय स्पिन का मोर्चा संभाला था.

हरभजन सिंह का अंतरराष्ट्रीय करियर

कुल टेस्ट: 103,

विकेट: 417

कुल वनडे: 236,

विकेट: 269 कुल

टी-20: 28,

विकेट: 25

हरभजन सिंह का पहला और आखिरी मैच

पहला टेस्ट: बनाम ऑस्ट्रेलिया, 1998

आखिरी टेस्ट: बनाम श्रीलंका, 2015

पहला वनडे: बनाम न्यूजीलैंड, 1998

आखिरी वनडे: बनाम साउथ अफ्रीका, 2015

पहला टी-20: बनाम साउथ अफ्रीका, 2006

आखिरी टी-20: बनाम यूएई, 2016

आईपीएल करियर कुल मैच: 163, विकेट: 150

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it