Begin typing your search...

आधार कार्ड को लेकर सरकार जल्दी ही ले सकती है बड़े फैसले

आधार कार्ड को लेकर सरकार जल्दी ही ले सकती है बड़े फैसले

आधार कार्ड को लेकर सरकार जल्दी ही ले सकती है बड़े फैसले
X

आधार कार्ड को लेकर सरकार जल्दी ही ले सकती है बड़े फैसले

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बता दे की कई दिनों से आधार को voter ID के साथ link करने के बारे में विचार कर रही है। पर उसको लेकर कोई खबर अब तक सामने नहीं आई थी। हालाकि अभी अब मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा कि सरकार आधार कार्ड को मतदाता सूची से जोड़ने पर नियम जल्द ही जारी कर सकती है। उन्होंने कहा कि मतदाताओं के लिए आधार की जानकारियां साझा करना स्वैच्छिक होगा लेकिन ऐसा न करने वाले लोगों को पर्याप्त वजहें बतानी होंगी। चंद्रा ने यह भी कहा कि चुनाव आयोग ने उन पांच राज्यों में टीकाकरण अभियान में तेजी लाने में अहम भूमिका निभाई, जहां इस साल मार्च में विधानसभा चुनाव संपन्न हुए हैं। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित करने के लिए ऐसा किया गया ताकि मतदाता और चुनाव ड्यूटी में शामिल लोग कोरोना वायरस से सुरक्षित रहें।

सीईसी के कार्यालय में दो प्रमुख चुनावी सुधार हुए, जिनमे से एक है कि, 18 साल की आयु वाले मतदाताओं को पंजीकरण कराने के लिए एक के बजाय साल में 4 तारीख उपलब्ध कराने का प्रावधान और मतदाता सूची में नकली प्रविष्टियों पर लगाम लगाने के लिए आधार कार्ड को मतदाता सूची से जोड़ना शामिल है। हमने सरकार को आश्वस्त किया कि यह सुधार बहुत आवश्यक है और इन लोगों का जल्द से जल्द पंजीकरण होना चाहिए क्योंकि वे 18 साल के हो गए हैं। इस सुधार के साथ अब उन लोगों को पंजीकरण के लिए एक साल में चार तिथियां मिलेगी जिनकी उम्र 18 साल हो गई है।

जब चंद्रा जी से पूछा गया की सरकार इन नियमों को कम लगी करेगी तब उन्होंने जवाब दिया की, ''मुझे लगता है कि बहुत जल्द.... क्योंकि हमने इस संबंध में पहले ही प्रस्ताव का मसौदा भेज दिया है। हमने फॉर्म भी भेज दिए हैं जिनमें बदलाव होने हैं और ये विधि मंत्रालय के पास हैं।

चंद्रा जी ने कहा कि, मुझे लगता है कि बहुत जल्द इन्हें मंजूरी मिल जाएगी। हमने भी अपनी IT प्रणाली मजबूत की है।'' यह पूछने पर कि क्या आधार की जानकारियां साझा करना स्वैच्छिक होगा, उन्होंने सकारात्मक जवाब दिया। उन्होंने कहा, ''यह स्वैच्छिक होगा। लेकिन मतदाताओं को अपना आधार नंबर न देने के लिए पर्याप्त वजह बतानी होगी।

Ankita Shukla
Next Story
Share it