Begin typing your search...

AIADMK ने 150 से ज्यादा पदाधिकारियों को पार्टी से किया निष्कासित

तमिलनाडु में सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक ने अपने पदाधिकारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए 150 से ज्यादा पदाधिकारियों को पार्टी की प्रतिष्ठा को ठेस पहुंचाने के कारण निष्कासित कर दिया।

AIADMK ने 150 से ज्यादा पदाधिकारियों को पार्टी से किया निष्कासित
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

चेन्नई : तमिलनाडु में सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक ने अपने पदाधिकारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई सोमवार को भी जारी रखी। अन्नाद्रमुक ने कोयंबटूर के अपने लोकसभा सदस्य को पार्टी के एक अहम पद से हटा दिया।

आरके नगर उपचुनाव में हार के बाद अपने असंतुष्ट नेताओं के खिलाफ कार्रवाई जारी रखते हुए पार्टी के शीर्ष नेता ओ. पनीरसेल्वम और के. पलानीस्वामी ने कोयंबटूर और कांचीपुरम जिलों में 150 से ज्यादा पदाधिकारियों को पार्टी की प्रतिष्ठा को ठेस पहुंचाने के कारण निष्कासित कर दिया।

अन्नाद्रमुक के समन्वयक ओ पनीरसेल्वम और सह-समन्वयक के पलानीस्वामी ने एक संयुक्त बयान में यह जानकारी दी। ये सदस्य पार्टी की शिवगंगा जिला इकाई और इसकी उप इकाइयों से हैं। इनमें पूर्व विधायक केके उमादेवन और सीटी पलानीचामी भी शामिल हैं। बयान के अनुसार एपी नागराजन को पार्टी की कोयंबटूर शहरी इकाई के 'प्रेसिडियम चेयरमैन' पद से हटाया जा रहा है।

गौरतलब है कि पलानीस्वामी और पनीरसेल्वम के धड़ों का अगस्त 2017 में विलय हुआ था। उन्होंने आरके नगर उपचुनाव में हार के बाद अन्नाद्रमुक ने पार्टी लाइन के खिलाफ काम करने वाले कार्यकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई की चेतावनी दी थी। इससे पहले पहले भी बड़ी संख्या में पदाधिकारियों को पार्टी से निकाला है और दिनाकरण के करीबियों के पद छीने हैं।

Vikas Kumar
Next Story
Share it