Begin typing your search...

चेन्नई का अनोखा मंदिर जहां प्रसाद मे मिलता है बर्गर, सैंडविच

चेन्नई के पड़प्पाई में स्थित जय दुर्गा पीठम मंदिर है. यहां प्रसाद के तौर पर लोगों को ब्रॉउनीज, बर्गर और सैंडविच मिलता है. मंदिर के बारे में एक बात और प्रसिद्द है कि इस मंदिर का प्रसाद FSSAI से प्रमाणित है. साथ ही इस प्रसाद पर एक्सपायरी डेट भी लिखी होती है।

चेन्नई का अनोखा मंदिर जहां प्रसाद मे मिलता है बर्गर, सैंडविच
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

आप देश के किसी भी मंदिर में गए होंगे तो वहां पर आपको प्रसाद में मिश्री, लड्डू, मूंगफली का दान या मिठाई मिलता होगा लेकिन तमिलनाडु में एक ऐसा मंदिर है जहां प्रसाद के रूप में बर्गर, चाउमीन, सैंडविच मिलता है।

आईए जानते हैं इस अनोखे मंदिर के बारे में

ये मंदिर चेन्नई के पड़प्पाई में स्थित जय दुर्गा पीठम मंदिर है. यहां प्रसाद के तौर पर लोगों को ब्रॉउनीज, बर्गर और सैंडविच मिलता है. मंदिर के बारे में एक बात और प्रसिद्द है कि इस मंदिर का प्रसाद FSSAI से प्रमाणित है. साथ ही इस प्रसाद पर एक्सपायरी डेट भी लिखी होती है. ना सिर्फ हाल ही में इस मंदिर को मॉडर्नाइज किया गया था बल्कि प्रसाद का मेन्यू भी मोर्डर्नाइज किया गया है. इसमें लड्डू और मिठाइयों के प्रसाद को हटाकर बर्गर और सैंडविच कर दिया है।

FSSAI द्वारा प्रमाणित प्रसाद मिलता है श्रद्धालुओं को

पवित्रता का रखते हैं ध्यान मंदिर की स्थापना करने वाले एक हर्बर ऑन्कॉलॉजिस्ट हैं. ऑन्कॉलॉजिस्ट के श्री श्रीधर ने बताया कि इस मंदिर में पवित्रता का ध्यान रखा जाता है. यहां के प्रसाद को FSSAI से प्रमाणित किया जाता है. कई बार मंदिरों में खराब प्रसाद वितरित कर दिया जाता है, जिसकी वजह से लोगों की तबियत खराब हो जाती है. लोग आस्था में प्रसाद ग्रहण कर लेते हैं. लेकिन इस मंदिर में बने सैंडविच और बर्गर के ऊपर डेट लिखी होती है कि कबतक इसे खाया जा सकता है।

श्रद्धालुओं के बर्थडे पर मिलता है खास केक

इस मंदिर की खास बात ये भी है कि यहां पर कोई दान पात्र नहीं हैं। यहां तक की पुजारी भी पूजा के लिए कोई दान नहीं लेते। वैसे मंदिर का मैनेजमेंट स्मार्ट कार्ड सिस्टम की योजना बना रहा है, जिसे भक्त खुद मंदिर का गेट खोलकर आ सकते हैं। इसके अलावा भक्तों को उनके जन्मदिन पर प्रसाद के रूप में खास केक दिया जाता है। मंदिर के अधिकारियों ने बर्थडे केक प्रसादम की शुरुआत की, जिसमें रिकॉर्ड के तौर पर मंदिर आने वाले भक्तों का पता और जन्मदिन की तारीख लिखी जाती है।

Satyapal Singh Kaushik
Next Story
Share it