Begin typing your search...

हवाई जहाज का रंग सफेद क्यों होता है, जानिए क्या है वजह

सफेद रंग सूरज की रोशनी या उसके ताप को परावर्तित कर देता है।

हवाई जहाज का रंग सफेद क्यों होता है, जानिए क्या है वजह
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

हवा में हवाई जहाज यात्रा का एक सुगम, सुखद और समय की बचत करने वाला साधन है. बहुत बड़ी संख्या ऐसे लोगों की है जो नियमित तौर पर देश-विदेश की हवाई यात्राएं करते हैं. लेकिन देश में बहुत बड़ी संख्या या कहें कि ज्यादातर लोग ऐसे हैं जो कभी भी हवाई जहाज में नहीं बैठे हैं. लेकिन आसमान में उड़ते हवाई जहाज को देखकर वो भी अपने मन के किसी कोने में बादलों के बीच उड़ने की ख्वाहिश लिए होते हैं। ज्यादातर हवाई जहाज का रंग सफेद ही क्यों होता है. यह सच में एक सोचने वाली बात है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से बताएंगे की क्यों हवाई जहाज का रंग सफेद होता है।

हवाई जहाज के ताप को नियंत्रित रखता है

सफेद रंग सूरज की रोशनी या उसके ताप को परावर्तित कर देता है. जैसा कि लोगों को सुझाव दिया जाता है कि गर्मी में सफेद कपड़े पहनने से कम गर्मी लगेगी. यही लॉजिक यहां भी काम करता है. सफेद रंग का हवाई जहाज उस पर पड़ने वाली ज्यादातर सूरज की किरणों को परावर्तित कर देता है. इससे जहाज गर्म नहीं होता है और तापमान नियंत्रित रहता है।

डेंट को आसानी से देखा जा सकता है

हवाई जहाज बहुत ही संवेदनशील यात्रा साधन है. अगर इसमें थोड़ी सी भी समस्या आती है तो इसके नतीजे बहुत खतरनाक हो सकते हैं. ऐसे में हवाई जहाज में होने वाली छोटी से छोटी टूट-फूट या डेंट के बारे में पता होना जरूरी है जिससे उसे समय रहते ठीक कर लिया जाए. अन्य रंगों की अपेक्षा सफेद रंग आसानी से डेंट दिखाई दे जाता है. इसलिए हवाई जहाज को सफेद रंग से रंगने का यह भी एक कारण है।

सफेद रंग हल्का रंग भी होता है ऐसे में अन्य रंगों पर इसे तवज्जो दी जाती है. इसके अलावा इसकी विजिबिलिटी भी एक कारण है. सफेद रंग को देखने में ज्यादा दिक्कत नहीं होती इसलिए किसी आसमानी दुर्घटना के होने की संभावना कम हो जाती है।


Satyapal Singh Kaushik
Next Story
Share it